होली पर बेरहमी से हुए हमले में गंभीर घायल अब्दुल मलिक की मौत

होली पर बेरहमी से हुए हमले में गंभीर घायल अब्दुल मलिक की मौत
Click for full image

नई दिल्ली। 2 मार्च को होली के दिन एक समूह द्वारा क्रूरता से किये गए हमले में घायल 35 वर्षीय अब्दुल मलिक की मंगलवार की शाम को मौत हो गई। मलिक ने दिल्ली के आरएमएल हॉस्पिटल में अंतिम सांस ली, जहां वह हमले के दिन से कोमा में था। इस सम्बन्ध में दिल्ली पुलिस ने चार किशोरों सहित सात लोगों को गिरफ्तार किया है।

बिहार मूल का मलिक दिल्ली के एक कढ़ाई कारखाने में काम करता थ। होली के दिन उस पर एक समूह ने हमला किया था। मलिक की पत्नी रोशन खातून, उनके तीन बच्चे बिहार के मधुबनी जिले के देवधा गांव में रहते हैं, जो घटना के बारे में जानकारी मिलने के बाद दिल्ली पहुंचे।

पुलिस के अनुसार आरोपी साहिल कुमार (20) और अर्जुन कुमार (22) ने होली से एक दिन पहले दो बोतल शराब खरीदी थी। दोनों ने पांच किशोरों के साथ शराब पी थी। पुलिस का कहना है कि आरोपी नशे में थे। उन्होंने मलिक और उसके मित्रों को लक्षित किया और बेरहमी से मलिक पर हमला किया।

उसके सिर पर हॉकी स्टिक से बार-बार प्रहार किया था। उसके सहयोगी मौके से भाग गए थे। मलिक के नियोक्ता मेहताब शेख ने कहा कि वे लोग हॉकी स्टिक्स से लैस थे। मेरे कर्मचारी नमाज पढ़ने जा रहे थे तब उन्होंने उन पर बुरी तरह से हमला किया। बुरी तरह से घायल मलिक को भगवान महावीर अस्पताल ले जाया गया और बाद में आरएमएल हॉस्पिटल में स्थानांतरित किया गया।

Top Stories