Friday , December 15 2017

ट्विटर के प्लेटफॉर्म पर गाली गलौज करना अब मुश्किल!

ट्विटर के प्लेटफॉर्म पर गालीगलौज करना अब मुश्किल हो जाएगा. इसकी रोकथाम के लिए ट्विटर ने कई बदलाव किए हैं. मकसद साफ है, अमर्यादित भाषा के इस्तेमाल पर लगाम लगाना.

पिछले दिनों यूजर्स को सताए जाने की घटनाओं को लेकर ट्विटर को कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ा था. ट्विटर ने तीन अहम बदलावों की घोषणा की है जिसे आने वाले हफ्तों में लॉन्च किया जाएगा.

ट्विटर के इंजीनियरिंग वाइस प्रेसिडेंट एड हो ने अपने ब्लॉग पोस्ट में कहा, “ट्विटर को एक सुरक्षित जगह बनाना हमारी पहली प्राथमिकता है. हम अपनी बात कहने की आजादी के पक्ष में खड़े हैं और लोगों को ये हक होना चाहिए कि वे किसी मुद्दे के सभी पहलुओं को देख-सुन-समझ सकें. जब बदजुबानी के जरिए उन आवाजों को दबाने की कोशिश की जाती है तो अपनी बात कहने की आजादी खतरे में पड़ जाती है. हम इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे और ये रोकने के लिए हम नए कदम उठाने जा रहे हैं.”

पिछले महीने चीफ एग्जिक्यूटिव जैक डोर्सी ने एक ट्वीट में ट्विटर पर रियल टाइम डायलॉग को बढ़ावा देने का वादा किया था.

इन विकल्पों का ये मतलब हरगिज नहीं होगा कि ये ट्वीट्स ट्विटर के प्लेटफॉर्म से पूरी तरह से हट जाएंगे लेकिन यूजर्स के पास ये ऑप्शन रहेगा कि वे उन्हें देखना चाहते हैं या नहीं.

पिछले दिनों ट्विटर की बिक्री की खबर भी गर्म रही थी लेकिन महीनों की अफवाह के बाद कहा गया कि गूगल, ऐपल और डिज्नी जैसी कंपनियां दिलचस्पी रखने के बावजूद पीछे हट गईं. संभावित खरीदारों के रुझान की कमी को देखते हुए ट्विटर को इस मुद्दे से भी निपटना है.

TOPPOPULARRECENT