Saturday , November 25 2017
Home / Delhi News / RSS समर्थित ABVP प्रत्याशी को हराकर गीता कुमारी बनी JNU सेंट्रल पैनल की अध्यक्ष

RSS समर्थित ABVP प्रत्याशी को हराकर गीता कुमारी बनी JNU सेंट्रल पैनल की अध्यक्ष

नई दिल्ली। JNU (जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय) छात्र संघ के केन्द्रीय पैनल के लिए हुए चुनाव में यूनाइटेड लेफ्ट ने बाजी मारी और सभी चारों पदों पर विजय हासिल की।

वाम प्रत्याशियों ने आरएसएस सर्मिथत एबीवीपी के अधिकतर उम्मीदवारों को बड़े अंतर से हराया। हालांकि अध्यक्ष पद के लिए कड़ी टक्कर हुई जिसमें यूनाइटेड लेफ्ट की प्रत्याशी गीता कुमारी ने एबीवीपी की निधि त्रिपाठी को 464 मतों से हराया।

चुनाव अधिकारियों ने बताया कि बापसा (बिरसा अंबेडकर फुले स्टूडेंट्स एसोसिएशन) की शबाना अली को 935 मत मिले हैं। उन्होंने बताया कि चुनाव में कुल 4639 मत पड़े जिनमें से 19 मत अवैध हो गये क्योंकि मतदाताओं ने अपनी पर्ची गलत मतपत्र पर लगा दी।

उपाध्यक्ष पद के लिए आइसा की सिमोन जोया खान को 1,876 वोट मिले। चुनाव में कुछ 4,620 वोट पड़े जिनमें से एबीवीपी प्रत्याशी दुर्गेश कुमार के हिस्से में महज 1,028 वोट आए। वाम के दुग्गीराला श्रीकृष्ण ने महासचिव पद अपने नाम किया, उन्हें 2,080 वोट मिले। संयुक्त सचिव का पद भी वाम के शुभांशु सिंह के हिस्से गया जिन्हें 1,755 मत मिले।

गीता कुमारी ने कहा, ‘‘इस जनादेश का श्रेय विद्यार्थियों को जाता है क्योंकि लोगों को अब भी विश्वास है कि लोकतांत्रिक स्थानों को बचाया जाना चाहिए और इस दिशा में एकमात्र संघर्ष विद्यार्थियों की ओर से किया जा रहा है।’’ गीता ने नजीब मामले के साथ-साथ जेएनयू की सीटों में कटौती, नए छात्रावासों सहित विभिन्न मामलों को उठाने का वादा किया।

TOPPOPULARRECENT