Wednesday , January 24 2018

रामजस कॉलेज में ABVP की हिंसा लोकतंत्र विरोधी है: अमर्त्य सेन

नई दिल्ली: नोबल पुरस्कार विजेता अमर्त्य सेन ने एक टीवी कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री मोदी की कड़ी आलोचना की है। अपनी किताब ‘कलेक्टिव चॉइस एंड सोशल वेलफेयर: एक्सपैंडेड एडिशन’ के लॉन्चिंग के मौके पर एनडीटीवी को दिए गए इंटरव्यू में सेन ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में एबीवीपी की गुंडागर्दी की आलोचना की।

सेन ने इस हिंसा को पूर्ण लोकतंत्र विरोधी बताया। उन्होंने कहा कि किसी भी संवाद के शुरू होने से पहले ही देश के लिए खतरनाक बता कर खत्म कर देने की कोशिश करनी भारतीय लोकतंत्र के खिलाफ है। हमें आम जिंदगी में तर्क वितर्क का वैचारिक आदान-प्रदान करना जरूरी है।

आपको बता दें की दिल्ली कि रामजस कॉलेज में जेएनयू छात्र उमर खालिद और पूर्व जेएनयू छात्रसंघ उपाध्यक्ष शेहला राशिद शोरा को एक सेमिनार पर बुलाया गया था लेकिन एबीवीपी के छात्रों ने अपनी गुंडागर्दी का सबूत देते हुए उसे कैंसिल करवा दिया। उमर खालिद को बीते साल कन्हैया कुमार और अनिर्बान भट्टाचार्य के साथ राजद्रोह के आरोप में हिरासत में लिया गया था।

TOPPOPULARRECENT