अच्छे दिन : एक साल में प्याज के भाव आसमान पर

अच्छे दिन : एक साल में प्याज के भाव आसमान पर
Click for full image

नई दिल्ली। प्याज की कीमतें आसमान छू रही हैं जिसके भावों में पिछले एक साल में 400 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज़ की गई है। खुदरा बाजार में प्याज़ की कीमतें लगभग 40 से 50 रुपये प्रति किलो हैं और यह भाव गत छह महीने से अधिक समय से स्थिर बने हुए हैं। कृषि मंत्रालय के अनुसार इस वर्ष प्याज के उत्पादन में कमी आई है। पिछले साल 22.4 मिलियन टन की तुलना में इस साल उत्पादन 21.4 मिलियन टन तक गिर जाने की उम्मीद जताई गई है।

आम आदमी के जेब पर प्याज़ की कीमतें बोझ हैं, जबकि चुनावों के दौरान वादा किया गया था कि खाद्य कीमतों में कमी आएगी। इसके विपरीत, देश में खाद्य मुद्रास्फीति पिछले यूपीए सरकार की तुलना में लगातार ऊपर रही है। देश में मुख्य प्याज बाजार लासलगांव, पिंपलगांव और बेंगलूरु मंडियों में कारोबार में गिरावट देखी गई है और बाजार में आने वाले वाहनों की संख्या में भारी गिरावट आई है।

कृषि मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि गुजरात, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र से नई फसलों के आने तक कुछ समय के लिए कीमतें ऐसे ही स्थिर बनी रहेंगी। इसके अलावा चक्रवात और पश्चिम तट पर कम दबाव बनने के कारण प्रतिकूल मौसम की वजह से सोलापुर, लासलगांव, अहमदनगर और नासिक जैसे क्षेत्रों में प्याज के उत्पादन में गिरावट आई है।

Top Stories