NRC की एडिशनल लिस्ट: और एक लाख लोगों को किया गया बाहर!

NRC की एडिशनल लिस्ट: और एक लाख लोगों को किया गया बाहर!

एनआरसी की अतिरिक्त सूची में उन लोगों के नाम हैं जो बीते साल प्रकाशित एनआरसी के मसविदे में तो शामिल थे। लेकिन विभिन्न संगठनों और व्यक्तियों की आपत्तियों के बाद अब उनको सूची से बाहर निकाल दिया गया ।

पूर्वोत्तर राज्य असम में विवादों में रही नेशनल रजिस्टर आफ सिटीजंस यानी एनआरसी की कवायद के चलते बीते साल ही 40 लाख लोगों की नागरिकता और भविष्य अधर में लटक गए थे। अब बुधवार को जारी एक अतिरिक्त सूची में और एक लाख लोग बेघर हो गए हैं।

इन लोगों के नाम पिछली एनआरसी के मसविदे में शामिल थे लेकिन तमाम आपत्तियों के बाद अब उनको सूची से बाहर निकाल दिया गया है. एनआरसी की अंतिम सूची 31 जुलाई को प्रकाशित होनी है।

जिन लोगों के नाम इस अतिरिक्त सूची में शामिल हैं वह 11 जुलाई तक एनआरसी सेवा केंद्रों पर अपने दावे दर्ज करा सकेंगे। 31 जुलाई को एनआरसी के अंतिम प्रकाशन से पहले उनके दावों का निपटान किया जाएगा।

इस बीच, बिहार मूल की एक महिला को विदेशी घोषित कर डिटेंशन शिविर में भेजे जाने से खासकर बाहरी राज्यों से आकर कई पीढ़ियों से यहां रहने वाले लोग आतंक में दिन काट रहे हैं।

Top Stories