मुस्लिम व गरीब छात्रों का टेक्निकल कॉलेजों में मुफ्त कराएगी एडमिशन, लेकिन दहेज़ न लेने का लेना होगा शपथ

मुस्लिम व गरीब छात्रों का टेक्निकल कॉलेजों में मुफ्त कराएगी एडमिशन, लेकिन दहेज़ न लेने का लेना होगा शपथ

पटना: बिहार के मुस्लिम छात्रों के लिए एक अच्छी खबर है। जहां प्रोफेशनल कोर्सेस में एडमिशन कराने के लिए छात्रों को एक मोटी राशि चुकानी पड़ती है, वहीं पटना की रोज़ माइन संगठन ने ऐलान किया है कि वह मुस्लिम और गरीब छात्रों तकनीकी संस्थानों में मुफ्त एडमिशन कराएगी।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

रोज़ माइन संगठन एक गैर-सरकारी संगठन है। संगठन के अनुसार इंजीनियरिंग, पैरा मेडिकल और मैनेजमेंट के कोर्सेज़ में इस साल 9 हजार 807 छात्रों का मुफ्त एडमिशन कराया जाएगा। रोज़माइन के चेयरमैन ओवैस अंबर ने मुस्लिम छात्रों से इस संबंध में पहल करने की अपील की है।

अंबर का कहना है कि तकनीकी कोर्सेज़ में एडमिशन बिलकुल मुक्त होगा। छात्रों को केवल अपने भोजन का इन्तेजाम करना होगा। अंबर के अनुसार रोज़माईन 55 प्रतिशत सीटों पर मुस्लिम छात्रों का एडमिशन कराएगी। छात्रों को इसके लिए एक अनुबंध करना होगा कि वे अपनी शादी में दहेज़ नहीं लेंगे और रोज़गार पाने के बाद दो बच्चों को अपने खर्च पर पढ़ाएंगे।

Top Stories