Tuesday , November 21 2017
Home / Uttar Pradesh / योगी राज में पीड़िता को न मिली एम्बुलेंस सेवा और न मिला डॉक्टर

योगी राज में पीड़िता को न मिली एम्बुलेंस सेवा और न मिला डॉक्टर

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने राज्य में 13 अप्रैल को 75 जिलों के लिए 150 एडवांस एंबुलेंस सेवा की शुरुआत की थी। योगी ने ऐलान किया था कि ये एम्बुलेंस सेवा 15 मिनट से भी कम समय में मरीजों और पीड़ितों को मुहैया कराई जायेगी।

लेकिन सरकार की इस एम्बुलेंस सेवा की ऐसी तस्वीर सामने आई है जो सीएम योगी के खोखले दावों को शर्मसार कर रही है।

यूपी के प्रतापगढ़ में भयंकर गर्मी में एक परिवार को दोहरी पीड़ा झेलनी पड़ी।

हुआ कुछ यूँ कि एक छात्रा ने गलती से जहरीली चीज खा ली। छात्रा का नाम पूजा है और उम्र 15 साल है। गलती से जहरीली चीज़ खा लेने के बाद पूजा काफ़ी बिगड़ गई।

इस बीच घर के लोग एम्बुलेंस सेवा के लिए फोन करते रहे लेकिन उन्हें कोई जवाब नहीं मिला। जिसके बाद पूजा को यह लोग निजी वाहन से सांगीपुर सीएचसी पहुंचे वहां पर डॉक्टर मौजूद नहीं थे।

वहां से दूसरे अस्पताल में ले जाने के लिए एंबुलेंस ढूंढने लगे। लेकिन तब भी उन्हें वहां एम्बुलेंस नहीं मिली। इतना ही नहीं, दर्द से तड़पती पूजा को लिटा कर ले जाने के लिए एक स्ट्रेचर तक नहीं मिला।

निजी वाहन से घर के लोग जब लालगंज पहुंचे तो वहां पूजा फर्श पर तड़पती रही, लेकिन यहां भी न एंबुलेंस थी और न ही डॉक्टर।
मजबूर परिवार के लोग लड़की को गोद में उठाकर टेम्पो में लेकर प्रतापगढ़ भी पहुंचे, लेकिन वहां भी डाक्टर्स ने पूजा का इलाज नहीं किया।

TOPPOPULARRECENT