बाबरी मस्ज़िद मामले में आडवाणी की पैरवी करने वाले के. के. वेणुगोपाल होंगे अगले अटॉर्नी जनरल

बाबरी मस्ज़िद मामले में आडवाणी की पैरवी करने वाले के. के. वेणुगोपाल होंगे अगले अटॉर्नी जनरल
Click for full image

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने जानेमाने संवैधानिक विशेषज्ञ और वरिष्ठ वकील के. के. वेणुगोपाल को भारत के अगले अटार्नी जनरल नियुक्त करने की हरी झंडी दे दी है। वेणुगोपाल अटार्नी जनरल मुकुल रोहतगी की जगह लेंगे।

इंडियन एक्सप्रेस ने खबर दी है कि राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने उनकी नियुक्ति को हरी झंडी दे दी है और सरकार के तरफ से  इसकी एक या दो दिन के भीतर आधिकारिक घोषणा हो सकती है।

बता दें कि 86 वर्षीय के. के. वेणुगोपाल ने 1960 में सुप्रीम कोर्ट में अपनी प्रेक्टिस शुरू की। उल्लेखनीय है कि नरेंद्र मोदी के अमेरिका दौरे से लौटने पर उनकी नियुक्ति पर फैसला लिया जाना था। प्रधानमंत्री ने यात्रा से वापसी के बाद उनके नाम पर सहमति जताई थी।

गौरतलब है कि वेणुगोपाल ने मोरारजी देसाई सरकार में अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल का पद पर रहे थे। पिछले पचास सालों में उन्होंने कई केस लड़े हैं। 2जी स्पेट्रम मामले में उन्हें सुप्रीम कोर्ट की मदद के लिए नियुक्त किया गया था।

वेणुगोपाल बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले भाजपा नेता लाल कृष्ण आडवाणी के तरफ से पैरवी की थी, जिस पर अभी हाल में सुप्रीम कोर्ट ने फिर से ट्रायल चलाने का आदेश दे दिया है।

 

Top Stories