अमेरिका में अश्वेत की मौत के बाद हिंसा, लगाया गया कर्फ्यू!

अमेरिका में अश्वेत की मौत के बाद हिंसा, लगाया गया कर्फ्यू!

अमेरिका में एक अश्वेत व्यक्ति की पुलिस हिरासत में हुई मौत के बाद बवाल मच गया है। कई शहरों में इस घटना के खिलाफ प्रदर्शन किये जा रहे हैं।

 

आज तक पर छपी खबर के अनुसार, हालात ये हो गये हैं कि व्हाइट हाउस के पास विरोध प्रदर्शन करने वालों का जमावड़ा लग गया है और पुलिस के साथ झड़प के बीच प्रदर्शनकारियों की तरफ से फायरिंग की भी जानकारी आ रही है।

 

हालात को देखते हुए वाशिंगटन डी.सी. में कर्फ्यू लगा दिया गया है। लोगों का गुस्सा इतना ज्यादा है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को व्हाइट हाउस के बंकर में जाना पड़ा़।

 

ये पूरा बवाल एक श्वेत पुलिस अधिकारी डेरेक चाउविन की उस हरकत की वजह से हो रहा है, जिसमें उसने 25 मई को 46 वर्षीय जॉर्ज फ्लॉयड को उसकी गर्दन पर घुटना रखकर पकड़ा।

 

इस दौरान फ्लॉयड बार-बार कहता रहा कि मैं सांस नहीं ले सकता..प्लीज, मैं सांस नहीं ले पा रहा हूं। मुझे छोड़ेंं। लेकिन पुलिस अफसर की निर्ममता ने जॉर्ज फ्लॉयड की जान ले ली।

 

इस घटना के बाद पुलिस अफसर पर तो एक्शन हो गया है, लेकिन जनता सड़कों पर उतर आई है।

 

डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के खिलाफ भेदभाव के आरोप लगाते हुये जगह-जगह प्रदर्शन किये जा रहे हैं। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दफ्तर व्हाइट हाउस के बाहर भी तीन दिन से गुस्साए लोग जुटे हैं।

 

रविवार को यहां हालात बेकाबू हो गये और पुलिस के साथ भीड़ का तनाव बढ़ गया। पुलिस ने यहां मौजूद करीब 1000 प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिये आंसू गैस के गोल छोड़े।

 

इसके बाद भीड़ भी एक्शन में आ गई। प्रदर्शनकारियों ने बैरिकेड तोड़ दिये और फायरिंग तक शुरू कर दी। इतना ही नहीं कुछ लोगों ने अमेरिका का झंडा तक जला दिया तो कुछ लोगों ने पेड़ की शाखाओं को तोड़ अपने गुस्से का इजहार कियाा।

 

आसपास मौजूद वॉशरूम और मेंटिनेंस ऑफिस में आग भी लगा दी गई। इस घटना के बाद पुलिस ने बताया कि कई लोगों को हिरासत में लिया गया है।

 

वाशिंगटन डीसी के चीफ ऑफ पुलिस पीटर न्यूजहैम ने जानकारी दी है कि मेट्रोपॉलिटन पुलिस डिपार्टमेंट ने शनिवार रात 17 लोगों को गिरफ्तार किया और विरोध-प्रदर्शन के दौरान 11 पुलिस अधिकारी घायल हो गए हैं।

 

वहीं, वाशिंगटन डी.सी की मेयर मूरियल बोसर ने कहा कि पुलिस हिरासत में एक निहत्थे अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद व्हाइट हाउस के बाहर रविवार रात को प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच बढ़ते तनाव के मद्देनजर वह शहरव्यापी कर्फ्यू लगा रही हैं।

 

उन्होंने बयान जारी कर कहा कि कर्फ्यू (अमेरिकी समयानुसार) 31 मई रविवार रात 11 बजे से 1 जून सोमवार सुबह 6 बजे तक लागू रहेगाा।

 

बता दें कि हालात को देखते हुए स्थानीय पुलिस की मदद के लिए नेशनल गार्ड को भी बुलाया गया है। अमेरिका की राजधानी में फ्लॉयड की मौत के विरोध में रविवार को लगातार तीसरे दिन प्रदर्शन हुआ।

Top Stories