शिवराज सिंह के कन्यापूजन के बाद उपहार में दी गई रूपये के साथ कपड़े भी उतरवाए

शिवराज सिंह के कन्यापूजन के बाद उपहार में दी गई रूपये के साथ कपड़े भी उतरवाए
Click for full image

भोपाल। मध्यप्रदेश में बच्चियों के मामा कहे जाने वाले मुख्यमंत्री शिवराज सरकार द्वारा ऐसी हरकत की जाएगी बच्चियां कभी सपने में भी नहीं सोची होगी। जी हां 9 दिसम्बर को शिवपुरी के सेसई ग्राम में हुए सहरिया सम्मेलन के दौरान सीएम शिवराज सिंह ने आदिवासी कन्याओं के पैर पूजकर उन्हें उपहार में कपड़े और कुछ पैसे दिए थे। जिन्हें बाद में वापस करा ली गई।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

रिपोर्ट के मुताबिक, शिवराज सरकार पर आरोप यह है कि ये उपहार और राशि अधिकारियों ने इन कन्याओं से कार्यक्रम होते ही वापस ले ली। हालांकि बीजेपी और सरकारी अफसर इस घटना का बचाव करते नजर आ रहे हैं, लेकिन अब इस मामले में कांग्रेस ने उन कन्याओं और उनके परिजनों के वीडियो जारी कर भाजपा की पोलखोल कर रख दी है।

प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता केके मिश्रा ने यह आरोप लगाया कि आदिवासी कन्याओं को उपहार में दी गई 21-21 सौ रुपये की धनराशि के लिफाफे और जो साफ सुथरे कपड़े पहनाये गये थे, मुख्यमंत्री के जाने के बाद तत्काल उक्त धनराशि से 2000 रुपये निकाल लिए गये, मात्र 100-100 रुपये के लिफाफे दिये गये और पहनाए गये वस्त्र भी उतरवा कर वापस ले लिये गये, जिसका खुलासा इन छोटी-छोटी बच्चियों के परिजनों ने ही किया है।

उनहोंने इस गंभीर घटना के बचाव में आए अधिकारियों और भाजपा संगठन के वीडियो फुटेज जारी करते हुए भ्रष्ट दोषियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई किए जाने की मांग की है। साथ ही उनहोंने कहा कि बच्चियों के ‘कथित मामा’ कहे जाने वाले मुख्यमंत्री की मौजूदगी में हुए इस कार्यक्रम का हश्र एक बड़े धोखे के रूप में तब्दील होगा किसी ने सोचा भी नहीं होगा।

बता दें कि मध्यप्रदेश में हुई इस घटना ने महिलाओं व बच्चों की सम्मान की बात करने वाले भाजपा सरकार की पोलखोल कर रख दी है।

Top Stories