शादी के 10 दिन के बाद ही दे दिया एक साथ तीन तलाक़!

शादी के 10 दिन के बाद ही दे दिया एक साथ तीन तलाक़!

सरकार ने भले ही तीन तलाक को अवैध घोषित कर दिया हो और तीन तलाक देने पर सजा का प्रावधान कर दिया हो। लेकिन लोग अभी भी तीन तलाक देने से बाज नहीं आ रहे हैं। ऐसे ही एक मामले में दस दिन पूर्व निकाह के बाद युवती को दहेज के लिए न सिर्फ जमकर पीटा गया, बल्कि तीन तलाक देकर घर से निकाल दिया गया।

मायके वाले युवती को घर ले आए हैं। मंगलवार सुबह पुलिस को तहरीर दी जाएगी। पुवायां के निवासी इकबाल ने बताया कि 29 अगस्त को उसने अपनी 23 वर्षीय बहन सुलेमा का निकाह शाहजहांपुर शहर में किया था।

बहन के निकाह से एक माह पूर्व उसके पिता जहीर खां का एक्सीडेंट हो गया था। उसने बहन की होने वाली ससुराल के लोगों ने शादी को एक माह आगे बढ़ाने को कहा लेकिन वे तैयार नहीं हुए।

इलाज में खर्च के कारण उसने वर पक्ष को बाइक देने में असमर्थता जताई तो बहन के ससुराल वाले बाइक बाद में लेने पर सहमत हो गए। इसके बाद निकाह हो गया। निकाह के बाद 2 9 अगस्त को उसकी बहन ससुराल गई तो उसके साथ रात में दहेज को लेकर मारपीट की गई।

30 अगस्त को वह लोग चौथ की विदा करा लाए। तीन सितंबर को बहन की ससुराल के लोग आकर विदा करा ले गए। तीन से लेकर पांच सितंबर तक उसकी बहन की दहेज को लेकर लगातार जमकर पिटाई की गई। पांच सितंबर को ससुराल के लोगों ने फोन कर बताया कि उसकी बहन की तबयित ठीक नहीं है। उसको आकर ले जाओ।

छह सितंबर को फिर फोन आया और कहा कि तुम्हारी बहन ने गुंडे बुला लिए हैं, तत्काल शाहजहांपुर आ जाओ। वह बहन के घर पहुंचा तो वहां यूपी-100 पुलिस पहले से ही मौजूद थे। पुलिस बहन को उसके साथ घर भेजदिया।

अमर उजाला पर छपी खबर के अनुसार, बहन ने बताया कि पिटाई के दौरान उससे कहा गया कि मायके के लोगों ने बाइक नहीं दी है अब उन लोगों को कार चाहिए। उसने गरीबी का हवाला दिया तो शौहर ने तीन बार तलाक भी दे दिया गया है। इकबाल ने कहा कि वह लोग मंगलवार को पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग करेंगे।

Top Stories