कानून बनने के बावज़ूद बेख़ौफ़ होकर दे रहे हैं तीन तलाक़!

कानून बनने के बावज़ूद बेख़ौफ़ होकर दे रहे हैं तीन तलाक़!

भले ही सरकार द्वारा तीन तलाक के खिलाफ कानून पास कराया गया हो। लेकिन अभी भी लोगों के अंदर इसका खौफ नजर नहीं आ रहा है. क्योंकि ऐसा ही एक मामला के थाना निवाड़ी क्षेत्र में देखने को उस वक्त मिला जब छूछक में कार नहीं मिली तो युवक ने अपनी पत्नी को तीन तलाक दे दिया।

जिसके बाद से पीड़िता के परिजन द्वारा थाना निवाड़ी में आरोपी पति के खिलाफ तहरीर दी है। लेकिन आश्चर्य की बात यह है कि उसके बावजूद भी इस तहरीर पर कोई ठोस कार्रवाई पुलिस द्वारा नहीं की गई।

जिसके बाद पीड़िता के परिजनों ने पुलिस के खिलाफ बेहद गुस्सा भरा है। और अब पीड़ित परिवार न्याय की गुहार लगाने के लिए आला अधिकारियों तक पहुंचने की बात कह रहा है।

ज़ी न्यूज़ पर छपी खबर के अनुसार, निवाड़ी थाना क्षेत्र के गांव सुहाना निवासी एक युवती की शादी हापुड़ जिले के थाना हापुड़ देहात के गांव सथाई निवासी इमरान के साथ एक सितम्बर 2018 को हुई थी।

डेढ़ माह पूर्व महिला ने एक बच्ची को जन्म दिया था। आरोप है कि बेटी पैदा होने के बाद से ही ससुराल पक्ष के लोगों ने महिला के साथ मारपीट कर उसे परेशान करना शुरू कर दिया था।

बेटी पैदा होने के बाद ही ससुराल वाले महिला से कार की मांग करने लगे। पिछले दिनों महिला को मारपीट कर घर से निकाल दिया। इसके बाद महिला अपने पिता के घर गांव सुहाना आ गई। आरोप है कि शनिवार को पति इमरान गांव सुहाना आ गया। उसने बेटी पैदा होने के बाद उपहार में कार देने की बात कही।

इस बात को लेकर पति- पत्नी के बीच विवाद हो गया। देखते ही देखते विवाद इतना बढ़ा कि इमरान ने अपनी पत्नी की बेहरमी से पिटाई कर दी। परिजनों ने किसी तरह से महिला को बचाया। बताया जा रहा है कि इसी बीच इमरान ने महिला को तीन बार तलाक तलाक कह दिया।

हालांकि युवती के पति को समझौते के लिए महिला के परिवार द्वारा बुलवाया गया था जहां पर आपस में समझौते की बात चल रही थी इसी दौरान फिर से पति ने कार दिए जाने की बात कही। जिसके बाद पति पत्नी में झगड़ा हो गया। इतना ही नहीं युवक ने अपनी पत्नी की पिटाई करनी शुरू कर दी।

साभार- ज़ी टीवी

Top Stories