Tuesday , December 12 2017

ब्लास्ट के आरोप मे गिरफ्तार युवक भाजपा द्वारा चल रहे अस्पताल में काम करते थे: अहमद पटेल

नई दिल्ली : दो मुस्लिम युवा उबैद मिर्जा उम्र 29 साल और कासिम स्टेम्बर वाला उम्र 31 जिसे पिछले सप्ताह अक्टूबर 25 को अहमदाबाद में ब्लास्ट के आरोप गिरफ्तार किया गया था। उक्त दोनों गिरफ्तार युवा का संदर्भ देते हुए राज्यसभा सदस्य अहमद पटेल ने बुधवार को जामबोसरमें एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि जिन संदिग्ध युवाओं का संबंध इस्लामिक स्टेट से है पूर्व में वह केरल में भाजपा द्वारा चल रहे अस्पताल में काम करते थे जिनका प्रधान मंत्री ने उद्घाटन किया था.

इससे पहले गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रोपानी ने अहमद पटेल पर आरोप लगाते हुए कहा था कि हाल ही में गिरफ्तार किया गया आतंकी संगठन आईएसआईएस का एक संदिग्ध सदस्य उस अस्पताल में काम करता था, जहां पटेल पहले एक ट्रस्टी थे। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कांग्रेस नेता अहमद पटेल से राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने की मांग करते हुए आज आरोप लगाया.

पटेल ने आरोप को ‘‘पूरी तरह बेबुनियाद’’ बताकर खारिज कर दिया और भाजपा से राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दों का राजनीतिकरण ना करने तथा गुजरात के शांति प्रिय लोगों को नहीं बांटने की अपील की। आरोपों का जवाब देते हुए पटेल ने ट्वीट किया, ‘‘मेरी पार्टी और मैंने दो आतंकवादियों को पकड़ने की एटीएस की कोशिश की सराहना की है। मैं उनके खिलाफ सख्त और तीव्र कार्रवाई की मांग करता हूं। भाजपा द्वारा लगाए गए आरोप पूरी तरह से बेबुनियाद हैं।’’ उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘हम अनुरोध करते हैं कि चुनाव को देखते हुए राष्ट्रीय सुरक्षा के विषयों को राजनीतिक रंग नहीं दिया जाए। आतंकवाद का मुकाबला करने के दौरान शांति प्रिय गुजरातियों को नहीं बांटिए।’’

पटेल ने कहा, ” भाजपा मेरा इस्तीफा मांग रही है क्योंकि वह निराश हो गई। मैंने राज्यसभा सीट अपने विधायक की वजह से जीती। कानून पर निर्णय छोड़ दो .

पिछले सप्ताह एक बैठक के दौरान गांधीनगर के कोबा में सीएम रोपानी ने कहा ” अहमद पटेल वह व्यक्ति हैं जो भरोच में अस्पताल चलाते हैं जहां संदिग्ध काम करते थे। पटेल अस्पताल के ट्रस्टी थे. जो वर्ष 2014 में इस्तीफा दे दिया गया। हालांकि, वह अस्पताल के काम की देखभाल का काम कर रहे थे, जहां श्री प्रणव मुखर्जी को वर्ष 2016 में नामांकित किया गया था।

TOPPOPULARRECENT