Sunday , January 21 2018

देश के मुसलमानों की राजधानी AIMIM का दफ्तर है: अकबरुद्दीन ओवैसी

Akbaruddin Owaisi gives his speach during a MIM candidate Shahid Mohammed Rafi campagin at Imampada in Bhendi bazaar in Mumbai on 08-10-2014. Express Photo by Kevin D'souza. 08.10.2014. Mumbai.

हैदराबाद। एआईएमआईएम नेता और विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि जिस तरह नई दिल्ली हमारे देश की राजधानी है वैसे ही पूरे देश के मुसलमानों की राजधानी दारुस्सलाम (मजलिस मुख्यालय) है। पार्टी कार्यालय दारुस्सलाम में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि मुसलमानों के हक के लिए सिर्फ एआईएमआइएम ही संघर्ष कर रही है। आज मुसलमानों की नजर दारुस्सलाम की राजनीति पर टिकी हुई है।

अकबरुद्दीन ओवैसी यहाँ दारूस्सलाम में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के 59 वें पुनरुद्धार दिवस के अवसर पर जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

अकबरुद्दीन ओवैसी ने कहा कि यह एआईएमआईएम के प्रयासों के बदौलत ही सम्भव हुआ है कि तेलंगाना सरकार ने आदेश जारी किए हैं कि मुसलमानों के साथ अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजातियों के समान व्यवहार किया जाए।

उन्होंने कहा कि उत्तर-प्रदेश चुनाव में जन-समस्याओं को छोड़ गधा, दीवाली, कब्रिस्तान और बुर्का चुनावी मुद्दे बन गए हैं। उन्हो़ंने कहा कि मुसलमानों की समस्याओं को लेकर संघर्ष किया जाएगा। साथ ही कहा कि आलेरु मुठभेड़ के आरोपियों को जब तक सजा नहीं मिलेगी तब तक वे चैन से नहीं बैठेंगे।

TOPPOPULARRECENT