शाहिन बाग आंदोलन करने वाली महिलाओं को अखिलेश ने रानी लक्ष्मी बाई बताया!

शाहिन बाग आंदोलन करने वाली महिलाओं को अखिलेश ने रानी लक्ष्मी बाई बताया!

शाहीन बाग प्रदर्शनकारियों पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की विवादित टिप्पणी की निंदा करते हुए, समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने गुरुवार को संशोधित नागरिकता अधिनियम का विरोध करने वाली महिलाओं की तुलना झांसी की रानी लक्ष्मीबाई से कि है।

 

रिपोर्ट लूक डॉट कॉम पर छपी इस खबर के अनुसार अखिलेश यादव ने यहां संवाददाताओं से कहा,”भाजपा नेता महिला विरोधी बयान जारी करते रहते हैं।

 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा शाहीन बाग में महिला प्रदर्शनकारियों के खिलाफ जारी किए गए बयान आपत्तिजनक हैं। उन्हें झांसी की रानी लक्ष्मी बाई के बारे में पता होना चाहिए।

 

जो “आत्मसम्मान की रक्षा के लिए अंग्रेजों के खिलाफ संघर्ष करने के लिए खड़ी हुईं थी।”

 

पूर्व मुख्यमंत्री ने कन्नौज और फर्रुखाबाद में कई कार्यक्रमों में हिस्सा लिया था। अखिलेश यादव ने आगे कहा, “एक संत की भाषा और भावना उनके कद के अनुसार होनी चाहिए। सीएम ने कहा, ‘ठोक दो’, ‘बदला लेंगे यह उन्हें शोभा नहीं देता।”

 

बुधवार को कानपुर में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के समर्थन में एक रैली को संबोधित करते हुए, आदित्यनाथ ने कहा था: “अगर कोई विरोध के नाम पर ‘आजादी’ के नारे लगाएगा, तो यह देशद्रोह की श्रेणी में आएगा और सरकार सख्त कार्रवाई करेगी।

 

साभार-  रिपोर्ट लूक डॉट कॉम

Top Stories