नागरिकता संशोधन विधेयक आज संसद में पेश कर सकते हैं अमित शाह!

नागरिकता संशोधन विधेयक आज संसद में पेश कर सकते हैं अमित शाह!

संसद का शीतकालीन सत्र जारी है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सोमवार को लोकसभा में नागरिकता (संशोधन) विधेयक पेश करेंगे। इस बिल से पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से गैर-मुस्लिम शरणार्थियों के लिए भारतीय नागरिकता जल्द मिल सकेगी।

हरिभूमी पर छपी खबर के अनुसार, बिल में हिंदुओं, सिखों, बौद्धों, जैनियों, पारसियों और ईसाइयों को नागरिकता देने का प्रस्ताव है। अगर वो 31 दिसंबर 2014 को या उससे पहले तीन देशों से भारत में दाखिल हुए है तो वो भारत के नागरिक बन सकते हैं।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने सत्तारूढ़ भाजपा के एक प्रमुख चुनावी वादे को पूरा करते हुए पिछले हफ्ते विधेयक को मंजूरी दे दी, लेकिन कई विपक्षी दलों ने कहा कि वे मसौदा विधेयक का विरोध करना जारी रखते हैं, उन्होंने कहा कि उन्होंने नागरिकता को धर्म से जोड़ा और इसलिए संविधान का उल्लंघन किया।

कांग्रेस के संसदीय रणनीति समूह ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर एक बैठक की और संसद में बिल के खिलाफ जोरदार विरोध करने का फैसला किया।

कांग्रेस के नेता और लोकसभा में विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी ने बैठक के बाद कहा कि कांग्रेस संसद में नागरिकता संशोधन बिल के दांत और नाखून का विरोध करेगी क्योंकि यह देश के संविधान, धर्मनिरपेक्ष लोकाचार, परंपरा, संस्कृति और सभ्यता के खिलाफ है।

Top Stories