AMU छात्र संघ ने गठबंधन को बताया ठगबंधन, कहा- तैयार करेंगे मुस्लिम दलों का फ्रंट

AMU छात्र संघ ने गठबंधन को बताया ठगबंधन, कहा- तैयार करेंगे मुस्लिम दलों का फ्रंट

एएमयू छात्रसंघ ने सपा-बसपा के लोकसभा चुनाव को लेकर हुए गठबंधन को ठगबंधन बताया है। कहा कि दोनों दल मुसलमानों का वोट लेकर हमेशा सत्ता हासिल करते आ रहे हैं, लेकिन इस तथाकथित गठबंधन में मुस्लिम राजनीतिक दलों का कोई प्रधिनित्व नहीं दिख रहा है। उन्होंने चेताया कि मुस्लिम पार्टियों की भागेदारी नहीं की गई तो एएमयू छात्र संघ मुस्लिम पार्टियों को जोड़कर नया फ्रंट तैयार करने का प्रयास करेगा।

यूनियन हॉल में शनिवार को पत्रकारों से वार्ता करते हुए उपाध्यक्ष हमजा सुफियान ने कहा कि आज देश का मुस्लमान सत्ता में हिस्सेदारी चाहता है। वह सिर्फ दरबारी बन कर नहीं रहना चाहता। हमजा ने कहा कि अखिलेश यादव और मायावती की प्रेस कॉन्फ्रेंस से सिर्फ यही पता चलता है कि ये दोनों दल इसलिए गठबंधन कर रहे हैं ताकि इनका वोट संगठित हो सके और वह भाजपा को अंकगणित में हरा सकें। यह विशुद्ध राजनीतिक कदम है, जिससे देश और प्रदेश में मुसलमानों के हालात में कोई बदलाव आने वाला नहीं है।

दोनों दल सालों तक पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में रहे हैं। तमाम लोक लुभावन घोषणाएं मुसलमानों के लिए कीं। लेकिन सत्ता हासिल करने के बाद सपा ने इस पर कुछ भी नहीं किया।  दोनों पार्टियों को चेताया कि अगर मुस्लिम पार्टियों को गठबंधन में शामिल नहीं किया तो एएमयू छात्रसंघ देश की तमाम मुस्लिम तंजीमों और दलों को संगठित कर एक नया फ्रंट तैयार करने का प्रयास करेगा।

Top Stories