AMU ने कश्मीरी छात्रों के लिए जारी की एडवाइजरी, आपत्तिजनक हरकत कतई बर्दाश्त नहीं होगी

AMU ने कश्मीरी छात्रों के लिए जारी की एडवाइजरी, आपत्तिजनक हरकत कतई बर्दाश्त नहीं होगी

पुलवामा आतंकवादी हमले के बाद यहां जगह-जगह हो रहे विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय ने अपने कश्मीरी छात्रों को परिसर से बाहर नहीं जाने की सलाह दी है. एएमयू के प्रॉक्टर प्रोफेसर मोहसिन खान ने रविवार को बताया कि शहर में जगह-जगह हो रहे विरोध प्रदर्शनों के मद्देनजर विश्वविद्यालय के कश्मीरी विद्यार्थियों को सलाह दी गई है कि वे फिलहाल परिसर से बाहर नहीं जाएं .

एएमयू के प्रॉक्टर प्रोफेसर मोहसिन खान ने बताया विश्वविद्यालय प्रशासन परिसर में कानून व्यवस्था की स्थिति पर लगातार नजर रख रहा है. खासकर सोशल मीडिया पर बेहद भड़काऊ संदेश प्रसारित किए जाने पर विशेष एहतियात बरती जा रही है. उन्‍होंने ने बताया कि परिसर में किसी भी तरह की आपत्तिजनक गतिविधि को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

 

प्रॉक्टर प्रो. मोहसिन खान ने बताया पुलवामा आतंकवादी हमले को लेकर आपत्तिजनक ट्वीट करने वाले कश्मीरी छात्र स्नातक के छात्र बसीन हिलाल को निलंबित कर दिया गया है. इसके अलावा उसके खिलाफ शुक्रवार को मुकदमा भी दर्ज कराया गया है.

कश्मीर का छात्र एएमयू से निलंबित
बीते 15 फरवरी को विज्ञान स्नातक की पढाई कर रहे कश्मीर के छात्र वसीम हिलाल को शुक्रवार को अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय से निलंबित कर दिया गया था. उसके खिलाफ रिपोर्ट थी कि उसने सोशल मीडिया में एक पोस्ट किया था, जिसमें उसने जम्मू कश्मीर में गुरुवार की हड़ताल के लिए आतंकवादी संगठन की तारीफ की थी. एएमयू प्रवक्ता उमर पीरजादा ने बताया था कि मामले की जांच की जा रही है. जांच पूरी होने पर कड़ी कार्रवाई होगी. पीरजादा ने कहा कि इस तरह की गतिविधियों के लिए एएमयू में जीरो टालरेंस की नीति है. इस करह की गतिविधियों में लिप्त लोगों को बख्शा नहीं जाएगा.

Top Stories