Tuesday , December 12 2017

AMU में वाइस चांसलर ना होने से इंतेज़ामी बे क़ाईदगीयाँ

अलीगढ़ मुस्लिम यूनीवर्सिटी टीचर्स एसोसीएसन (AMUTA) ने आज इल्ज़ाम आइद करते हुए कहा कि यूनीवर्सिटी में हमा वक़्ती वाइस चांसलर की तक़र्रुरी में ताख़ीर की वजह से यूनीवर्सिटी की इंतिज़ामी सरगर्मीयां मुतास्सिर हो रही हैं और अफ़रातफ़री का श

अलीगढ़ मुस्लिम यूनीवर्सिटी टीचर्स एसोसीएसन (AMUTA) ने आज इल्ज़ाम आइद करते हुए कहा कि यूनीवर्सिटी में हमा वक़्ती वाइस चांसलर की तक़र्रुरी में ताख़ीर की वजह से यूनीवर्सिटी की इंतिज़ामी सरगर्मीयां मुतास्सिर हो रही हैं और अफ़रातफ़री का शिकार हैं।

मर्कज़ी हुकूमत को एक मकतूब तहरीर करते हुए AMUTA के सेक्रेटरी मुस्तफ़ा ज़ैदी ने इल्ज़ाम आइद किया कि यूनीवर्सिटी में बे क़ाईदगियों और बदउनवानीयों का बोल बाला है और इसकी सबसे बड़ी वजह ये है कि 29 मार्च से यूनीवर्सिटी का कोई वाइस चांसलर ही नहीं है।

ये तो वही बात हुई कि कौन भला इस बाग़ को पूछे हो ना जिस का माली बहरहाल, सुप्रीम कोर्ट के एक हिदायतनामा के मुताबिक़ यूनीवर्सिटी की इंतेज़ामी देख भाल फ़िलहाल रजिस्ट्रार के सपुर्द है और रजिस्ट्रार को ये हुक्म दिया गया है कि वो वाइस चांसलर की अद मे मौजूदगी में मजलिस-ए-आमला के फ़ैसलों का नफ़ाज़ करें।

TOPPOPULARRECENT