Saturday , December 16 2017

यूपी चुनाव में AMU छात्रसंघ ने दिया बसपा को समर्थन

अलीगढ:  यूपी चुनाव शुरू होने से महज़ दो दिन पहले ही एएमयू छात्र संघ ने मुस्लिम वोटरों से बसपा के पक्ष में वोट देने की अपील की है. एएमयू छात्र संघ ने एक विज्ञप्ति जारी कर यह अपील की है.

इसमें छात्रसंघ अध्यक्ष फैज़ुल हसन और सचिव नबील उस्मानी के हवाले से कहा गया है कि मुस्लिम समुदाय यूपी में बसपा का समर्थन करें. अपील में सांप्रदायिक ताकतों और जाली समाजवादियों से बचने की बात भी कही गई है.

समाजवादी पार्टी के शासन के दौरान हुए सांप्रदायिक दंगे का ज़िक्र करते हुए छात्र संघ ने कहा है कि यह पार्टी केवल समाजवाद का नारा देती है जबकि यह असल में परिवारवादी पार्टी है.

इस पार्टी ने छात्रों पर लाठी चलवाई और मुसलमानों की मांगों को हमेशा नज़रंदाज़ किया है. इस बार मुसलमानों को कांग्रेस और सपा दोनों जाली हमदर्दों से छुटकारा पाना होगा.

अपने अपील में छात्रसंघ ने रोहित वेमुला और नजीब का उदाहरण देते हुए कहा है कि केंद्र सरकार का दलित – मुसलिम विरोधी चेहरा सामने आ चुका है. जिस प्रकार यह सरकार लगातार शिक्षा संस्थानों पर हमले कर रही है इससे हमें यूपी को बचाना होगा.

अपने नोटीफिकेशन में अलीगढ मुसलिम यूनिवर्सिटी के छात्र संघ ने बाबा अम्बेडकर के विचारों का समर्थन किया है और बीएसपी को समाज की मुख्यधारा से कटे सभी तबकों की पार्टी करार दिया है .

भारत के सुनहरे भविष्य के लिए सभी तरह की सांप्रदायिक ताकतों का विरोध बेहद ज़रूरी है. केंद्र और राज्य सरकार का रवैया मुसलमानों के प्रति बेहद घटिया रहा है. राज्य में लगातार दंगे हुए हैं और पुलिस तंत्र भी कमज़ोर हुआ है.

मुसलमानों के विरोध में और धार्मिक उन्माद फैलाने के इरादे से बीजेपी के नेतागण बोलते रहे हैं और सरकार इस पर चुप रही है. फासीवादी ताकतों को ख़तम करने के लिए यूपी में केवल बीएसपी ही एक मात्र दल है .

 

TOPPOPULARRECENT