आंध्र प्रदेश: विशाखापट्टनम में फैली बच्चा चोर गैंग की अफवाह, भीड़ ने ले ली एक की जान

आंध्र प्रदेश: विशाखापट्टनम में फैली बच्चा चोर गैंग की अफवाह, भीड़ ने ले ली एक की जान

विशाखापट्टनम: आंध्र प्रदेश के जिला विशाखापट्टनम में बीते कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर ऐसे संदेश तेजी से प्रसारित हो रहे हैं, जिनमें इलाके में बच्चा चोर गिरोह के सक्रिय होने की बात कही जा रही है। बच्चा चोरों के सक्रिय होने की अफवाह को लेकर लोगों में डर का माहौल कदर हावी है कि बीते 24 घंटे के अंदर बच्चा चोर होने के संदेह में 12 लोगों पर भीड़ ने हमला कर उनकी बुरी तरह पिटाई कर दी। जबकि भीड़ के इस हमले में अब तक एक व्यक्ति की जान भी चली गई है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

इस मामले को लेकर विशाखापट्टनम के पुलिस कमिश्नर टी योगानंद ने लोगों से अपील की है कि व्हाट्सऐप पर विशाखापट्टनम और आस-पास बच्चा चोर गैंग के सक्रिय होने की अफवाह फैलाई जा रही है। इस तरह की अफवाहों पर विश्वास कर लोग बच्चा चोर के शक में संदिग्ध व्यक्तियों पर हमले कर रहे हैं। लोगों से अपील है कि वे कानून अपने हांथ में न लें।

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि बच्चा चोर के संदेह में भीड़ द्वारा की गई पिटाई में एक व्यक्ति की मौत की खबर है, जबकि पांच अन्य घायल हो गए हैं। पांचों घायलों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

उनहोंने बताया कि जिले के वन टाउन पुलिस थाना इलाके में एक गैर-तेलुगू भाषी भिखारी को बच्चा चोर होने के संदेह में बुरी तरह पीटा गया भीड़ ने निर्दोष भिखारी को निर्वस्त्र कर दिया और पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी। पुलिस अब तक मृत भिखारी की पहचान नहीं कर सकी है, हालांकि उसकी हत्या के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

वहीं पुलिस कमिश्नर का कहना है कि शहर में बीते 15 दिन में कहीं से किसी बच्चे के लापता होने या किडनैप होनी की कोई रिपोर्ट नहीं है। साथ ही उन्होंने कानून हांथ में लेने वालों को सख्त कार्रवाई की चेतावनी भी दी है।

Top Stories