Wednesday , December 13 2017

सत्याग्रह पर बैठे अन्ना हजारे, कहा- मोदी सरकार ने वादाखिलाफी की है

नई दिल्ली। सामाजिक कार्यकर्त्ता अन्ना हजारे आज गांधी जयंती के मौके पर दिल्ली के राजघाट पर एक दिन का सत्याग्रह पर बैठ गए हैं। हजारे पुणे से दिल्ली पहुंचे और वहां से सीधे महात्मा गांधी की समाधि राजघाट पर बापू को श्रद्धांजलि देने के बाद सत्याग्रह पर बैठे।

इस दौरान उन्होंने कहा कि मैं राजघाट पर गांधी जी को नमन करने आया हूं। अन्ना ने कहा कि मैं दुखी नही हूं, दुखी स्वार्थी लोग होते हैं। उन्होंने कहा कि जो लोग अपने वादे भूल गए हैं मैं उनको उनके वादे याद कराने यहां आया हूं।

आज राष्ट्रपति महात्मा गांधी की 148वीं जयंती मनाई जा रही है। इस मौके पर देश और दुनिया में कई जगह विभिन्न कार्यक्रम हो रहे हैं। हजारे ने कहा कि देश महात्मा गांधी के सपने के रास्ते से भटक गया है इसीलिए वे गांधी के जन्मदिन पर एक दिन का सत्याग्रह करेंगे।

बता दें कि पिछले दिनों अन्ना हजारे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेटर लिखकर भ्रष्टाचार और किसानों की समस्‍याओं पर अपनी नाराजगी जाहिर की थी और आंदोलन करने की भी बात कही थी।

अन्‍ना ने मोदी को लिखा था कि उनके आंदोलन के छह साल बाद भी भ्रष्टाचार को रोकने वाले एक भी कानून पर अमल नहीं हो पाया।

TOPPOPULARRECENT