अयोध्या में राम मंदिर के लिए एक और शिया मोलवी ने की पैरवी, कहा- नहीं चाहिए कट्टर मुसलमानों की सर्टिफिकेट

अयोध्या में राम मंदिर के लिए एक और शिया मोलवी ने की पैरवी, कहा- नहीं चाहिए कट्टर मुसलमानों की सर्टिफिकेट

अयोध्या के हिन्दूधाम में चल रहे 9 दिवसीय पार्थिव रूद्राभिषेक अनुष्ठान में आयोजित संत सम्मेलन में पहुंचे आरएसएस के अखिल भारतीय कार्यकारी सदस्य इंद्रेश कुमार ने कहा कि जहां रामलला विराजमान हैं, रामजन्म भूमि का स्थान वहीं पर है।

राम मंदिर वहीं बनेगा। मस्जिद वहां न थी और न ही आगे रहेगी। इसी दौरान वहां मौजूद शिया धर्मगुरु ने कहा कि राम मंदिर को मस्जिद कहने वाले सच्चे मुसलमान नहीं हैं।

शिया मुस्लिम धर्मगुरू मौलाना कौवकव ने कहा कि राम मंदिर के लिए किसी मौलवी की सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है। राम जन्म भूमि प्रभु राम की मिल्कियत है।

जो कट्टरपंथी इसे मस्जिद कहते हैं, वे सच्चे मुसलमान नहीं हैं। सम्मेलन में करीब एक दर्जन मुस्लिम नेता व धर्मगुरुओं ने भी हिस्सा लिया।

किछौछा दरगाह के सुन्नी धर्मगुरू मोहम्मद इरफान ने मंच से हनुमान चालीसा का पाठ किया और राम मंदिर के निर्माण के पक्ष में भाषण किया। बुधवार को इंद्रेश कुमार के साथ मुस्लिम दल ने हनुमानगढ़ी की परिक्रमा की जहां हनुमानगढ़ी के महंतों ने उनका माला पहना कर स्वागत किया।

सौजन्य- NBT

Top Stories