जिन्ना विवाद पर हामिद अंसारी ने तोड़ी चुप्पी, छात्रों के शांतिपूर्ण प्रदर्शन को तारीफ के काबिल बताया

जिन्ना विवाद पर हामिद अंसारी ने तोड़ी चुप्पी, छात्रों के शांतिपूर्ण प्रदर्शन को तारीफ के काबिल बताया

पूर्व उपराष्ट्रपति एम हामिद अंसारी ने हंगामा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की एएमयू छात्रों की मांग का समर्थन किया है. AMU कैंपस परिसर में हंगामा उस समय हुआ था जब अंसारी एक कार्यक्रम के लिए वहां मौजूद थे.

हामिद अंसारी ने कहा कि कैंपस में घुसे लोगों के खिलाफ शांतिपूर्ण आंदोलन तारीफ के काबिल है. उस कार्यक्रम में अंसारी को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय छात्र संघ की आजीवन सदस्यता दी जानी थी. हालांकि कार्यक्रम दक्षिणपंथी हिंदू कार्यकर्ताओं की कथित हिंसा के चलते रद्द कर दिया गया था.

उन्होंने एएमयू छात्र संघ को लिखे एक पत्र में लिखा है कि इसको लेकर (एएमयू) छात्रों का शांतिपूर्ण प्रदर्शन तारीफ के काबिल है. उन्हें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि यह किसी भी तरह से उनके शैक्षणिक गतिविधियों को प्रभावित नहीं करे.

उन्होंने कहा कि बीती दो मई के कार्यक्रम के बारे में सबको जानकारी थी, जिसमें केनेडी ऑडिटोरियम में उनका एक संबोधन भी शामिल था. कार्यक्रम से जुड़े प्राधिकारियों को आधिकारिक रूप से जानकारी दी गई थी और वे ऐसे मौकों पर होने वाली सुरक्षा सहित मानक व्यवस्था से अवगत थे.

पूर्व उपराष्ट्रपति ने कहा, ‘इसके मद्देनजर परिसर में घुसे लोगों का यूनिवर्सिटी गेस्ट हाउस तक पहुंचना अभी भी रहस्य बना हुआ है, जहां मैं ठहरा हुआ था.’ पूर्व उपराष्ट्रपति अंसारी ने उन्हें सम्मान देने के लिए एएमयू छात्र संघ और उसके पदाधिकारियों का धन्यवाद किया

Top Stories