अमेरिका और इजराइल की चीजों की बाईकाट के लिए एप तैयार

अमेरिका और इजराइल की चीजों की बाईकाट के लिए एप तैयार

मुंबई: अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प के जरिए यरूशलेम को इजराइल की राजधानी क़रार देने के फैसले के खिलाफ इस्लाम दुनियां में बेचैनी बढ़ती जा रही है, और भारत के मुसलमानों ने भी अमेरिका और इजराइल की बदतरीन साजिश पर सख्त गुस्से का इज़हार किया है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

सुन्नी जमीअत उलेमा और रज़ा अकेडमी ने अमेरिका और इजराइल की खुदरा चीजों का पुरे तौर पर बाईकाट का ऐलान करते हुए उनकी चीजों की जानकारी हासिल करने के लिए एक एप तैयार किया है, जिस से न सिर्फ अमेरिका और इजराइल की चीजों की जानकारी होगी बल्कि लोगों का उसका विकल्प भी होगा। इस एप को जारी भी कर दिया गया है।

मुंबई मराठी पत्रकार संघ में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में एडवोकेट युसूफ अब्रहानी ने कहा कि अमेरिका की ओर से यरूशलेम को इजराइल की राजधानी बनाने की नापाक हरकत की गई है, जिसे किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प ने इस क़दम से मुसलामानों के खिलाफ जंग का ऐलान किया है। जिस का जवाब देने के लिए हम मुसलामानों से यह अपील करते हैं कि वह अमेरिका और इजराइल की तमाम चीजों का पूरे तौर पर बाईकाट कर के उसको ज्यादा से ज्यादा आर्थिक नुकसान पहुंचाए और उसके साथ ही मजलूम फिलिस्तीन के जनता के हक में और बैतूल मुक़द्दस की आज़ादी के लिए दुआ करें।

एडवोकेट युसूफ अब्रहानी ने कहा कि अमेरिका और इजराइल की चीजों को निशानदेही करने के लिए दि इंडियन मुस्लिम टाइम्स नामक एप रज़ा अकेडमी के सदस्यों अतीकुर रहमान और मोहम्मद इमरान ने बनाया है जिसको एंड्राइड मोबाइल फोन में डाउनलोड करके उसमें मौजूद स्केन आप्शन का इस्तेमाल कर के उन दोनों देशों के चीजों को मालुम किया जा सकता है उसके लिए सिर्फ चीज़ पर मौजूद बारकोड को स्केन करना होगा, बारकोड जैसे ही स्केन होगा मालूम हो जायेगा कि कोंसी चीज़ किस देश की है और उसमें उस प्रोडक्ट का दूसरा विकल्प भी मौजूद होगा।

Top Stories