Monday , November 20 2017
Home / Khaas Khabar / बंद होंगी सेना की गोशालाएं, मोदी सरकार के फैसले से रोज़गार और 20 हज़ार गायों की ख़तरे में ज़िंदगी

बंद होंगी सेना की गोशालाएं, मोदी सरकार के फैसले से रोज़गार और 20 हज़ार गायों की ख़तरे में ज़िंदगी

मोदी सरकार सेना के फर्म को बंद करने का फैसला किया है। इस सैन्य फार्म में देश की सबसे अच्छी नस्ल की गायें पाली जाती हैं। माना जाता है कि इनका दूध भी बाकी की गायों से सबसे अच्छा होता है।

लेकिन अब रक्षा मंत्रालय ने इस बंद करने का आदेश दिया है। कैबिनेट कमेटी ने आर्मी को निर्देश देते हुए कहा कि तीन महीने के भीतर इन गोशालाओं को बंद किया जाए। कमेटी ने आगे कहा कि सेना के जवानों के लिए दूध डेयरी से खरीदा जाए।

दरअसल इस गौशालाओं में भ्रष्टाचार का भी मामला सामने आ चुका है। इसलिए सरकार के इस कदम को इससे जोड़कर देखा जा रहा है।

बड़ी बात यह है कि सरकार के फैसले से एक तरफ जहाँ निजी मिल्क और डेयरी उद्योग को बढ़ावा देने के रूप में देखा जा रहा है, वहीँ दूसरी तरफ इन गौशालाओं के करीब 2,500 कर्मचारियों की नौकरी ख़तरे में आ गई है।

हालांकि ऑल इंडिया फेडरेशन ऑफ डिफेंस वर्कर ने इसपर चिंता जाहिर की है।

फेडरेशन ने कहा कि सरकार के इस फैसले से अब भारत की सबसे अच्छी नस्ल की गायों के भविष्य पर प्रश्न चिन्ह लग गया है। ये गाय सबसे ज्यादा दूध देती हैं।

वहीँ एक बड़ा सवाल यह भी है कि इन गौशालाओं के बंद होने के बाद यहाँ की 20 हज़ार गायों को कहाँ रखा जाएगा।

फिलहाल देश में दूसरी ऐसी कोई फर्म नहीं है जो इतनी सारी गायों को गायों को पाला जा सके।

 

TOPPOPULARRECENT