सेना ने इंडिया टुडे को लगाई फटकार, अधिकारी को क्लीन चिट मिलने की चलाई थी झूठी ख़बर

सेना ने इंडिया टुडे को लगाई फटकार, अधिकारी को क्लीन चिट मिलने की चलाई थी झूठी ख़बर
Click for full image

भारतीय सेना ने इंडिया टुडे को फटकार लगाई है। कश्मीरी युवा को जीप से बांधने वाले मामले में सेना के अधिकारी को क्लीन चिट दिए जाने वाली खबर के कारण सेना ने इंडिया टूडे को आड़े हाथों लिया है।

सेना ने नाराजगी जताते हुए मीडिया समूह को लिखा कि 15 मई को उसने अपने प्लेटफार्म से गलत रिपोर्ट की है। समूह को ‘संवेदनशील सैन्य मुद्दों’ पर रिपोर्ट करते समय आधिकारिक स्रोतों से तथ्यात्मक जानकारी की पुष्टि करनी चाहिए थी।

बता दें कि पिछले महीने सोशल मीडिया पर कश्मीर का एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें फारुख अहमद डार नामक कश्मीरी युवक को आर्मी के जवान जीप में बांधकर घुमा रहे थे। इस मामले में गृह मंत्रालय ने भी जांच के आदेश जारी कर दिए थे।

इसी खबर से जुड़े मामले पर रिर्पोटिंग करते हुए 15 मई 2017 को कमलजीत कौर संधु द्वारा लिखित मेल टुडे में प्रकाशित खबर में कहा गया कि एक न्यायालय ने घटना में शामिल मेजर को क्लीन चिट दे दी है।

सेना के जनसंपर्क अधिकारी कर्नल अमन आनंद ने मेल टुडे के प्रबंध संपादक अभिजीत मजूमदार को संबोधित करते हुए लिखा कि कृपया आप उस रिर्पोट को देखें जिसमें कश्मीरी नागरिक को जीप से बांधकर घुमाने वाले अधिकारी को क्लीन चिट दे दी गई है। आगे उन्होंने कमलजीत कौर की रिर्पोट का शीर्षक के साथ उल्लेख किया।

इस पर आगे कहा गया कि इस घटना से संबंधित कोर्ट ऑफ इंक्वायरी अभी भी अधूरी है। अविश्वसनीय स्रोतों द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर जांच के निष्कर्षों पर अटकलें लगाना अनुचित है। कर्नल आनंद ने मीडिया समूह को इसकी मूल रिपोर्ट को सही करने के लिए भी सलाह दी।

गौरतलब है कि इससे पहले पाकिस्तान की चौकिओं पर हमला करने और पाकिस्तान के 7 जवानों को मार गिराने वाली ख़बर पर भी सेना ने मीडिया को फटकारा था। सेना ने ऐसी किसी भी कार्रवाई से इंकार किया था ।

Top Stories