लश्कर-ए-तैयबा का फरार कथित आतंकी लखनऊ के एक होटल से गिरफ्तार

लश्कर-ए-तैयबा का फरार  कथित आतंकी लखनऊ के एक होटल से गिरफ्तार
Click for full image

एनआईए के सूत्रों ने बताया कि वर्ष 2006 में महाराष्ट्र के औरंगाबाद में लश्कर-ए-तैय्यबा के द्वारा सप्लाई किए गए भारी मात्रा में एके-47 बरामद की गई थी। इस मामले में औरंगाबाद पुलिस ने अबू जुंदाल समेत 22 लश्कर के आतंकियों को गिरफ्तार किया गया था। इसी मामले में लश्कर का सबसे सक्रिय आतंकी अब्दुल नईम शेख भी गिरफ्तार किया गया था। वह औरंगाबाद का रहने वाला था। महाराष्ट्र पुलिस उसे वर्ष 2014 में कोलकाता से लेकर मुंबई जा रही थी, तभी छत्तीसगढ़ में रायपुर के करीब वह ट्रेन से कूद कर भाग निकला था।

एनआईए सूत्रों का कहना है कि उसे लखनऊ में चारबाग रेलवे स्टेशन के करीब एक होटल से गिरफ्तार किया गया। उसे बड़े ही गोपनीय ढंग से एटीएस, एनआईए और सैन्य खुफिया एजेंसियों ने पूछताछ की। उसने कबूला है कि वह फरार होने के बाद कश्मीर गया और वहां लश्कर आतंकियों से मिलकर उसने सैन्य प्रतिष्ठानों की जासूसी की। वह कुछ दिनों तक हिमाचल में भी रहा, जहां उसने कसोल में रैकी की। इस दौरान उसकी योजना इज़राइली नागरिकों को निशाना बनाने की थी।

खुफिया एजेंसियों के लिए उसकी गिरफ्तारी एक बड़ी चुनौती बनी हुई थी। उसके वर्ष 2016 में उसके साथी आतंकियों को महाराष्ट्र की मकोका अदालत ने सजा सुनाई, जिसमें सात आतंकियों को उम्रकैद की सजा हुई।

एनआईए सूत्रों ने बताया कि उस पर आंध्र प्रदेश में मक्का मसजिद में आतंकी हमले, मुंबई में ट्रेन ब्लास्ट के भी आरोप रहे हैं। उसने वाराणसी व लखनऊ में अपने साथियों का बड़ा नेटवर्क बना लिया था। साथ ही उसने दिल्ली में भी कुछ महत्वपूर्ण सैन्य स्थलों की जासूसी की है। इस संबंध में यूपी एटीएस को भी सूचना दी गई है।

Top Stories