प्रॉपर्टी विवाद में बेवा महिला को ससुरालवालों ने की जिंदा जलाकर मारने की कोशिश, 80% जलीं

प्रॉपर्टी विवाद में बेवा महिला को ससुरालवालों ने की जिंदा जलाकर मारने की कोशिश, 80% जलीं

नई दिल्ली : हजरत निजामुद्दीन बस्ती के कोट मोहल्ला में रहनेवाली 32 साल की एक महिला को 80 फीसदी जली हालत में सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वह जिंदगी से जूझ रही हैं। महिला को जलाने का आरोप उनके तीन जेठ-जेठानियों पर है। आरोप है कि प्रॉपर्टी और पैसों के विवाद में महिला पर मिट्टी का तेल डालकर उन्हें जिंदा जलाने की कोशिश की गई।

साउथ-ईस्ट दिल्ली के डीसीपी चिन्मय बिश्वाल ने बताया कि हजरत निजामुद्दीन थाने में एफआईआर दर्ज कर ली गई है। जांच की जा रही है। घटना 16 अगस्त की शाम की है। अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। पीड़ित महिला का नाम यास्मीन (32) है। 10 साल पहले उनकी शादी आमिर से हुई थी। चार साल पहले आमिर की हार्ट अटैक से मौत हो गई थी। उनकी तीन बेटियां हैं। बड़ी बेटी की उम्र 9 साल, दूसरी बेटी की 8 और सबसे छोटी बेटी की उम्र 5 साल है।

मां को जलते देख टूटी नहीं 9 साल की बच्ची, पानी डाला,पुलिस बुलाई
जब महिला को जिंदा जलाकर मारने की कोशिश की गई तब ऐन वक्त पर महिला की तीनों बेटियां घर आ गईं। उन्होंने मां को जलते हुए देखा। घरवालों से मदद की अपील की, लेकिन किसी ने आग नहीं बुझाई। मां को जलते देख 9 साल की बच्ची ने आग बुझाई और फिर बाद में पुलिस को बुलाई।

यास्मीन के मायकेवाले खुरेजी में रहते हैं। मायकेवालों ने आरोप लगाया है कि यास्मीन को शुक्रवार शाम करीब 6:30 बजे जलाया गया। इसकी सूचना हजरत निजामुद्दीन थाना पुलिस को दे दी गई है। लेकिन मामले में पुलिस ढुलमुल रवैया अपना रही है। हाल यह है कि अभी तक आरोपियों में से किसी को गिरफ्तार तक नहीं किया जा सका है। मायकेवालों का कहना है कि उन्होंने यास्मीन का निकाह धूमधाम से किया था। जब तक यास्मीन का पति जिंदा थे, सब ठीक चल रहा था। आमिर की मौत के बाद यास्मीन के ससुरालवालों ने उसे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया।

आरोप है कि यास्मीन को महीने का खर्चा चलाने के लिए केवल 10 हजार रुपये दिए जाते थे, जबकि उनकी तीन बेटियां हैं। उनमें भी बड़ी बेटी को शुगर है। यास्मीन ने कई बार ससुराल वालों से खर्चा बढ़ाने के लिए कहा तो वह नाराज हो जाते थे। बाद में तो मारपीट भी करने लगे थे। इसकी शिकायत करीब तीन साल पहले पुलिस को की गई थी, लेकिन कुछ नहीं हुआ। मामला यहां तक बढ़ गया कि यास्मीन प्रॉपर्टी में हिस्सा ना मांग ले, उसे जलाकर मारने की साजिश रच दी गई। तमाम आरोपी अभी फरार है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Top Stories