Sunday , May 27 2018

आयशा मीरा हत्या की SIT से जांच कराने का हाई कोर्ट ने दिया आदेश

हैदराबाद: संयुक्त आंध्र प्रदेश में हलचल मचाने वाली बी-फार्मेसी छात्रा आयेशा मीरा की हत्या को लेकर उच्च-न्यायालय ने शुक्रवार को इस बात का आदेश दिया कि मामले की फिर एक बार विशेष जांच दल (एसआईटी) से जांच करायी जाए। साथ ही न्यायालय ने इस बात का भी आदेश दिया है कि मामले की जांच न्यायालय की देख रेख में की जाए।

अदालत ने यह भी कहा है कि मामले की जांच करने वाले एसआईटी अधिकारियों की अदालत के आदेश के बगैर स्थानांतरित ना किया जाए। विशाखा के डीआईजी श्रीकांत के नेतृत्व में गठित होने वाले एसआईटी में हैमावती, लक्ष्मी, शेहरुन्निसा बेगम सदस्य होंगी।

उलेलखनीय है कि वर्ष 2007 में विजयवाड़ा के इब्राहिमपट्टनम के एक छात्रावास में आयेशा मीरा की हत्या कर दी गयी थी। इस दौरान 17 अगस्त 2008 को सत्यम बाबू नामक युवक को इस मामले में गिरफ्तार किया गया था। वास्तव में सेलफोन चोरी के मामले में गिरफ्तार सत्यम बाबू को बाद में इस मामले में फंसा दिया गया।

इस मामले की सुनवाई के बाद विजयवाड़ा महिला कोर्ट ने सितंबर 29 को सत्यम बाबू को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। इस पर सत्यम बाबू ने उच्च- न्यायलय में याचिका दायर की। उच्च- न्यायालय ने मामले की सुनवाई के बाद सत्यम बाबू को निर्दोष बताते हुए पिछले वर्ष 31 मार्च को अपना फैसला सुनाया।

TOPPOPULARRECENT