आतंकी हमला और दंगों से निपटने के लिए अयोध्या में सुरक्षा के कड़े इंतजाम!

आतंकी हमला और दंगों से निपटने के लिए अयोध्या में सुरक्षा के कड़े इंतजाम!

अयोध्या में कार्तिक मेला को लेकर चल रही चहल-पहल के बीच आतंकी खतरे ने सुरक्षातंत्र की नींद उड़ा दी है।

जागरण डॉट कॉम के अनुसार, नेपाल के रास्ते भारत में संदिग्धों की घुसपैठ का इनपुट मिलने के बाद रामनगरी में निगरानी बढ़ा दी गई है। इनकी नापाक नजर अयोध्या पर होने की आशंका है।

आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) अयोध्या पुलिस के सहयोग के लिए पहुंच चुका है। अयोध्या में चिह्नित स्थानों पर पैरामिलिट्री फोर्स के साथ एटीएस कमांडो तैनात कर दिए गए हैं।

आतंकी इनपुट की सूचना मिलने के बाद अयोध्या पुलिस के जिम्मेदार एटीएस के उच्चाधिकारियों से लगातार संपर्क में है।

एक पुलिस अधिकारी की मानें तो इनपुट है कि आतंकी भारत में प्रवेश करने की फिराक में हैं। हालांकि इनपुट पर पुलिस-प्रशासन के जिम्मेदार खुलकर नहीं बोल रहे हैं, लेकिन सतर्कता बढ़ाया जाना स्वीकार कर रहे हैं।

अयोध्या विवाद का फैसला आने वाला है। इसे लेकर अयोध्या में पहले से ही सरगर्मी है। बड़ी संख्या में फोर्स अयोध्या पहुंच चुकी है और भी फोर्स के आने की संभावना है। मंगलवार से 14कोसी परिक्रमा के साथ कार्तिक मेले का उल्लास भी शुरू हो चुका है।

ऐसे में सुरक्षा तंत्र बेहद सतर्क है। राज्य के साथ केंद्रीय खुफिया एजेंसियों ने भी अयोध्या में डेरा डाल रखा है। नेपाल के रास्ते सात आतंकियों के भारत में घुसने का इनपुट मंगलवार को सार्वजनिक हुआ है। रामनगरी पहले से ही आतंकियों के निशाने पर है।

पांच जुलाई 2005 को अधिगृहीत परिसर पर आतंकी हमला हो चुका है। इससे पूर्व अयोध्या में कई आतंकी साजिश बेनकाब हो चुकी है। ऐसे में सुरक्षातंत्र ने पड़ताल तेज कर दी है। सीओ अयोध्या का कहना है कि एटीएस कमांडो लगाए गए हैं। उन्हें अलग-अगल तैनाती दी गई है।

ड्रोन कैमरा और सीसीटीवी लगाए गए
अयोध्या में चप्पे-चप्पे पर निगरानी के लिए ड्रोन कैमरे के साथ सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। जिले में 18 हजार स्थानों पर पुलिस अधिकारियों के फोन नंबर पहले ही लिखवाए जा चुके हैं।

पुलिस सोशल मीडिया का सहारा लेकर आम लोगों से सूचना संकलन कर रही है। अयोध्या में 80 से अधिक स्थानों पर मोर्चा लेने के लिए सैंडबैग बनाए गए हैं। आपात परिस्थितियों से निपटने के लिए विशेष स्कीम के तहत पुलिस कार्य कर रही है।

कार्तिक पूर्णिमा मेला व चौदह कोसी/पंचकोसी परिक्रमा पर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त के निर्देश दिए गए हैं। डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि अयोध्या में चौदह कोसी परिक्रमा, पंचकोसी परिक्रमा व कार्तिक पूर्णिमा मेला का आयोजन 12 नवंबर तक चलेगा।

कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर अयोध्या, प्रयागराज, हापुड़, अमरोहा, एटा, बरेली, रायबरेली, कानपुर नगर, वाराणसी व बलिया में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए जाने के साथ ही गड़बड़ी करने वालों पर कड़ी नजर रखी जाए।

महिलाओं व बच्चों की सुरक्षा को लेकर खास सतर्कता बरती जाए और सादे कपड़ों में भी पुलिसकर्मियों को ड्यूटी पर लगाया जाए। रेलवे स्टेशन व बस अड्डों पर भी सघन चेकिंग के निर्देश दिए गए हैं।

Top Stories