Wednesday , September 19 2018

बाबा रामदेव के खिलाफ अदालत की अपमान का नोटिस जारी

इलाहाबाद उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति अश्विनी कुमार मिश्रा ने गौतम बुद्धनगर के गावों के किसान सोहन लाल के आवेदन पर नोटिस जारी किया है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पतंजलि आयुर्वेदिक् लिमिटेड, नोएडा के निदेशक योग गुरु बाबा रामदेव, गौतम बुद्ध नगर के जिलाधिकारी ब्रजेश नारायण सिंह और यमुना एक्सप्रेसवे प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरुण वीर सिंह पर अदालत के आदेश का उल्लंघन करने के आरोप में नोटिस जारी किया है।

जस्टिस अश्विनी कुमार मिश्रा ने गौतम बुद्धनगर के गांव के किसान सोहन लाल के याचिका पर आज यह नोटिस जारी किया है। याचिकाकर्ता का कहना है कि प्लॉट नंबर 172-ए और 172 बी के प्राप्त की कानूनी स्थिति को चुनौती दी गई है।

अदालत ने आवेदन पर जवाब तलब किया और विवादित भूमि के यथास्थिति को बरकरार रखने का आदेश दिया। आवेदक की जमीन यमुना क्सप्रेसवे प्राधिकरण के पक्ष में हासिल कर बाबा रामदेव की कंपनी पतंजली आयुर्वेदिक को दे दी गई थी। अदालत के स्टे आर्डर के बावजूद कंपनी ने आवेदक के पलाट को कांटेदार तार से घेर लिया है। शिकायत किए जाने के बावजूद अदालत के आदेश को नहीं माना जा रहा है।

TOPPOPULARRECENT