Sunday , December 17 2017

बाबरी मस्जिद मामला: श्री श्री रविशंकर से बातचीत करने से सुन्नी वक्फ बोर्ड का इंकार

आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रवि शंकर अयोध्या विवाद पर सुलह की पहल में व्यस्त हैं। इस सिलसिले में उन्होंने बुधवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लगभग आधे घंटे मुलाक़ात की। उसके बाद गुरुवार को वह अयोध्या जाकर पक्षों से बात चीत करने का सोच रहे थे।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

लेकिन इस पहल को सुन्नी वक्फ बोर्ड ने धक्का दिया है। सुन्नी वक्फ बोर्ड ने श्री श्री रविशंकर के प्रस्ताव को ख़ारिज करते हुए 16 नवम्बर को अयोध्या में मिलने से इंकार कर दिया है। सुन्नी वक्फ बोर्ड से समर्थन का इज़हार करते हुए आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड ने भी बातचीत से साफ़ मना कर दिया है। इन दोनों मुस्लिम संगठनों का कहना है कि श्री श्री रविशंकर के पास इस मामले में कोई लीगल स्टेंड नहीं है, इसलिए वह बातचीत के प्रस्ताव को ख़ारिज करते हैं।

इस से पहले अयोध्या में शिया वक्फ बोर्ड के मामले के पक्षों से बातचीत में भी सुन्नी वक्फ बोर्ड ने एतराज़ जताया था। सुन्नी वक्फ बोर्ड के इक़बाल अंसारी ने बैठक से बाहर निकल कर शिया वक्फ बोर्ड के अधयक्ष के फोर्मुले को एक पक्षीय बताकर ख़ारिज कर दिया।

TOPPOPULARRECENT