बाबरी मस्जिद की जमीन पर बौद्धों ने ठोका दावा, कहा- ‘खुदाई में पाये गयें बौद्ध स्तूप’

बाबरी मस्जिद की जमीन पर बौद्धों ने ठोका दावा, कहा- ‘खुदाई में पाये गयें बौद्ध स्तूप’
Ram Janam Bhumi and Babri Masjid in Ayodhya(News Profile)

बौद्ध समुदाय ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करते हुए अयोध्या भूमि विवाद पर अपना दावा ठोक दिया है। बौद्ध समुदाय का कहना है कि वहां पर भारतीय पुरातत्व विभाग की खुदाई में बौद्ध धर्म से जुड़े स्तूप पाए गए थे।

विनीत कुमार मौर्या ने 6 मार्च 2018 को दायर याचिका में कहा है कि इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच के आदेश के बाद भारतीय पुरातत्व विभाग चार बार वहां पर खुदाई की। याचिका में दावा किया है कि बाबरी मस्जिद बनाए जाने से पहले वहां बौद्ध समुदाय का स्मारक था।

उन्होंने कहा कि भारतीय पुरातत्व विभाग ने उस जगह पर खुदाई में बौद्ध धर्म से जुड़े स्तूप, दीवारें और खंभे भी पाए थे। उनका दावा है कि विवादित भूमि पर बौद्ध विहार था।

भारतीय पुरातत्व सर्वे ने 2003 में कहा था कि विवादित स्थल के नीच एक गोलाकार पूजास्थल पाया गया, जिसके बाद इलाहाबाद हाई कोर्ट ने इससे जुड़े सबूत जुटाने को कहा था। कोर्ट ने कहा था कि विवादित स्थल के कसौटी स्तंभ वाराणसी में मौजूद बौद्ध स्तंभों के समान हैं।

Top Stories