Saturday , July 21 2018

EVM को लेकर बैकफुट पर भाजपा, कहा- सभी दल राजी है तो ‘बैलट पेपर’ से हो चुनाव

चुनाव के दौरान ईवीएम में हो रहे गड़बड़ियों को लेकर कांग्रेस के 84वें महाधिवेशन में चुनाव में ईवीएम की बजाय बैलट पेपर से कराने का प्रस्ताव जैसे ही अपने महाधिवेशन में पास किया वैसे ही भाजपा बैकफुट पर आ गई। भाजपा ने कहा है कि ईवीएम के बदले बैलट पेपर पर अगर सभी पार्टियां राजी हो तो बैलट पर विचार किया जा सकता है।

दरअसल ईवीएम पर उठ रहे सवालों पर कांग्रेस ने अपने अधिवेशन प्रस्ताव पारित करते हुए मांग की है कि देश को अब बैलट पेपर वाली वोटिंग पर लौट जाना चाहिए। इसके पीछे की वजह चुनावों में होने वाली ईवीएम गड़बड़ी ही जिसे कांग्रेस ने मुख्य रूप ईवीएम के विरोध में आ गई है।

कांग्रेस के इस कदम के बाद भाजपा के राम माधव ने कहा कि अगर सभी पार्टियां इसे लेकर राजी हो तो बैलट पर विचार किया जा सकता है। इस मामले सभी दलों की सहमति लिए बिना हम कुछ नहीं कर सकते है।

उन्होंने कहा कि ‘मैं कांग्रेस को याद दिलाना चाहूंगा कि बैलट पेपर की बजाय ईवीएम से चुनाव कराए जाने का फैसला बड़े स्तर पर सहमति बनने के बाद ही लिया गया था। अब आज यदि हर पार्टी यह सोचती है कि हमें बैलट पेपर पर लौट जाना चाहिए तो इस पर भी हम विचार कर सकते हैं।

बता दे कि आम चुनाव के बाद फिर उत्तर प्रदेश समेत 5 राज्यों के चुनाव में कई दलों ने ईवीएम में गड़बड़ी के आरोप लगाए थे। यहां तक कि गुजरात के चुनाव में भी पाटीदार नेता हार्दिक पटेल समेत कई लोगों ने ईवीएम को बीजेपी की जीत का कारण बताया था।

वही अभी हाल ही ख़त्म हुए उत्तर प्रदेश के उपचुनावों में भी समाजवादी पार्टी ने भी ईवीएम गड़बड़ी पर चुनाव आयोग को पत्र लिखा था।

https://mobile.twitter.com/ANI/status/975079190860042249?ref_src=twsrc%5Etfw&ref_url=http%3A%2F%2Fboltaup.com%2Fbjp-agrees-on-ballot-paper-for-elections-instead-of-electronic-voting-machine%2F

TOPPOPULARRECENT