Thursday , August 16 2018

UP: बजरंग दल के संयोजक ने दी चौकी इंचार्ज सगीर अमहद को धमकी, उलटा दरोगा को ही पद से हटाया गया

जौनपुर: उत्तरप्रदेश पुलिस को आजकल रोज़ाना धमकियों का सामना करना पड़ रहा है। अब कुछ ऐसा ही मामला मछलीशहर कोतवाली क्षेत्र में पेश आया है जहाँ सूचना मिलने पर जाम हटवाने पहुंचे कस्बा इंचार्ज सगीर अहमद और बजरंग दल के संयोजक राजकुमार पटवा के बीच जमकर तू तू-मै मै हो गयी। सरेआम एक दूसरे को देख लेने की धमकी दी गयी। बाद में कोतवाल पन्नग भूषण ओझा ने बीच-बचाव कर मामला शांत कराया।

मामला कुछ यूँ है कि कस्बा इंचार्ज सगीर अहमद ने बताया कि कस्बे में जाम की सूचना मिली थी जिसपर वह जाम हटवाने जा रहे थे। नगर के सादीगंज मोहल्ले में एक मोटरसाइकल आडी तिरछी खड़ी थी। उन्होंने सामने स्थित दुकानदार से पूछा लेकिन कोई मालिक सामने नहीं आया। इस पर गाड़ी का प्लग निकाल लिया और वहाँ से चले गये।

थोड़ी देर बाद कोतवाल पन्नग भूषण ओझा ने उन्हें प्लग वापस करने के लिए बुलाया। जैसे ही वो मौके पर पहुंचे तो बजरंग दल के संयोजक राजकुमार पटवा उनसे भिड़ गए और कहासुनी हो गई। बाद में पता चला कि जिस बाइक का प्लग निकाला था वो राजकुमार पटवा की ही थी । देखते ही देखते विवाद इतना बड़ा की एक दूसरे को देख लेने की धमकी दे डाली।

कस्बा इंचार्ज सगीर अहमद ने कहा कि मुझे सरेआम गुण्डा कहकर संबोधित किया गया।

उधर, बजरंग दल संयोजक ने दरोगा पर गाली देने का आरोप लगाते कहा कि मेरी गाड़ी की चाभी नाली में फेकने की बाद बजरँग दल से नफरत होने की बात कही गई।

दरोगा सगीर अहमद ने वहीं से पूरी वस्तु स्थित से डीएम और एसपी को भी अवगत कराया। हालांकि सूत्रों से पता चला है कि दरोगा को कस्बा इंचार्ज के पद से हटा दिया गया है।

TOPPOPULARRECENT