Tuesday , July 17 2018

बैंकिंग घोटाले पर संसद में विपक्ष का भारी हंगामा जारी

बजट सत्र के दूसरे चरण के आज लगातार तीसरे दिन लोकसभा में प्रश्नकाल नहीं हो सका और बैंक घोटाले को लेकर विपक्षी कांग्रेस तथा सत्तारूढ़ गठबंधन के घटक दल शिवसेना एवं तेलुगू देशम पार्टी के अलावा अन्य विपक्षी दलों द्वारा विभिन्न मुद्दों को लेकर किए गए शोर-शराबे के कारण सदन की कार्रवाई दोपहर तक के लिए स्थगित करनी पड़ी।

वहीं राज्यसभा की कार्रवाई 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। पूर्वाह्न 11 बजे प्रश्नकाल की कार्रवाई शुरू होते ही अलग-अलग रंगों का पटका लगाए विभिन्न दलों के सदस्य अपनी-अपनी मांगों की पट्टियां लेकर अध्यक्ष के आसन के समीप आकर नारेबाजी और शोर-शराबा करने लगे।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एवं पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस सदस्य बैंक घोटाला करके विदेश फरार हुए हीरा व्यापारी नीरव मोदी को वापस लाने ,शिवसेना के सांसद मराठी को शास्त्रीय भाषा का दर्जा देेने, अन्नाद्रमुक के सदस्य कावेरी प्रबंधन बोर्ड गठित करने,तेलुगू देशम पार्टी और वाईएसआर कांग्रेस के सदस्य आंध्रप्रदेश को वित्तीय पैकेज देने तथा तेलंगाना राष्ट्र समिति के सदस्य तेलंगाना में आरक्षण का कोटा बढ़ाये जाने की मांग को लेकर शोर-शराबा करने लगे।

ये सभी सदस्य अध्यक्ष के आसन के समीप इकट्ठा होकर जोर-जोर से नारेबाजी करने लगे। पूरा सदन सदस्यों के रंग-बिरंगे पटके से रंगीन था।

शिवसेना के सांसद भगवा रंग, तेदेपा के सदस्यों ने पीले रंग और अन्नाद्रमुक के सफेद, लाल और काले रंग का तिरंगा पटका पहन रखा था। तेलंगाना राष्ट्र समिति के सदस्यों ने गुलाबी रंग के अंगवस्त्र पहने हुए थे।

अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने प्रश्नकाल की कार्यवाही शुरू की और पहला प्रश्न पूछने के लिए कहा जिस पर संचार मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि विवरण सभा पटल पर रख दिया गया है। लेकिन शोर-शराबा और हंगामा बढ़ता देखकर उन्होंने कार्रवाई स्थगित कर दी।

TOPPOPULARRECENT