Monday , November 20 2017
Home / India / कर्नाटक में बंदी के दौरान नहीं पहुंचे मेहमान, तो प्रदर्शनकारी बने बाराती

कर्नाटक में बंदी के दौरान नहीं पहुंचे मेहमान, तो प्रदर्शनकारी बने बाराती

कई मांगों के समर्थन में कन्नड़ संगठनों की ओर से सोमवार को कर्नाटक बंद रहा। राज्य के कई शहरों में बंद का काफी असर दिखा जिसमें कोलार भी था। इस बीच एक ऐसी घटना भी सामने आई जिसमें बंद में प्रदर्शन करने वाले लोग बाराती बने और दावत का आनंद उठाया।

विजय कर्नाटक की रिपोर्ट के अनुसार, कोलार के एक कल्याण मंडप में वीरेंद्र और चित्रा की शादी थी लेकिन बंद के कारण बस और अन्य वाहनों के नहीं चलने की वजह से बाराती और मेहमान बहुत कम आए। शादी की रस्में तो निभा ली गईं, लेकिन परिवार के लोग इस चिंता में थे कि बारातियों के लिए बनाए गए खानों का क्या होगा?

बंद के दौरान कल्याण मंडप के नजदीक कुछ प्रदर्शनकारी जुटे थे। सुबह से ही ये लोग नारेबाजी कर रहे थे और यहां स्थित चौराहे पर प्रदर्शन भी किया। दोपहर होते-होते इन्हें भूख सताने लगी।

इसी दौरान विवाह मंडप में मौजूद लोगों को ख्याल आया कि क्यों ना प्रदर्शनकारियों को ही खाना खिला दिया जाए। उन्होंने प्रदर्शनकारियों को बुलाया और भरपेट भोजन कराया।

TOPPOPULARRECENT