Monday , September 24 2018

चलती ट्रेन में मुसलमानों पर हमले की घटना पर दुखी हुई बरखा दत्त ने लिखा: यदि मैं मुस्लिम होती…

उत्तर प्रदेश: फर्रुखाबाद में चलती ट्रेन में मारपीट का शिकार हुए एक मुस्लिम परिवार के लिए पत्रकार बरखा दत्त ने दुःख जताया है।

इस मामले में बरखा दत्त ने अपने एक पुराने आर्टिकल को सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर पोस्ट किया है। ‘यदि मैं मुस्लिम होती…’।

इस लेख के जरिये बरखा ने देश में समुदाय विशेष के लोगों पर हो रही हिंसा पर चिंता जाहिर करते हुए लिखा है कि अगर मैं मुस्लिम होती तो क्या इस देश में मेरी आवाज सिर्फ इसलिए नहीं सुनी जाती क्योंकि देश के राजनीतिक नेतृत्व को चुनाव जीतने के लिए मेरे वोट की जरूरत नहीं है।

यदि मैं मुस्लिम होती तो खून से सने जुनैद के चेहरे को देखकर ईद कैसे मनाती? पहलू खान को देखकर खुद से क्या कहती। यदि मैं मुस्लिम होती तो मुझे कैसे लगता जब भारत के राष्ट्रपति द्वारा आयोजित इफ़्तार पार्टी में कोई केन्द्रीय मंत्री नहीं पहुंचा।

बरखा के इस ट्वीट पर सोशल मीडिया यूज़र्स की कड़ी प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। हमेशा की तरह लोग उनपर सिर्फ मुसलमानों के हितों का ख्याल रखने का आरोप लगा रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT