Friday , September 21 2018

मोदी सरकार के फैसले के खिलाफ पूरे केरल में किया गया ‘बीफ फेस्ट’ का आयोजन

केरल: केंद्र सरकार ने बूचड़खानों के लिए मवेशियों को खरीदने और बेचने पर रोक लगाने का फैसला लिया हैं। सीपीएम के यूथ विंग एसएफआई ने केंद्र के इस फैसले के खिलाफ विरोध जाहिर करने के लिए केरल के 200 स्थानों पर ‘बीफ फेस्ट’का आयोजन किया गया।
एलडीएफ, विपक्षी कांग्रेस नीत यूडीएफ और उनकी युवा इकाइयों ने मार्च निकाला और राज्य में उन जगहों पर बीफ फेस्ट का आयोजन किया, जहां बीफ सबसे ज्यादा खाया जाता है।
तिरुवनंतपुरम में सचिवालय के बाहर प्रदर्शनकारियों ने सड़क के किनारे गोमांस पकाया और उसे लोगों में बांटा।
प्रदर्शन की अगुवाई करने वाले डीवाईएफआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष मोहम्मद रियाज ने कहा, ‘केंद्र सरकार के प्रति अपना विरोध जाहिर करने के लिए हम बीफ खाएंगे।
कोच्चि में तो राज्य के पर्यटन मंत्री के. सुरेंद्रन भी इस फेस्ट में हिस्सा बने।
कोल्लम जिले में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने डीसीसी ऑफिस के सामने बीफ पकाकर केंद्र के फैसले के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराया। इडुक्की जिले के थोडुपुझा में प्रदर्शनकारियों ने भैंस का सिर हाथ में लेकर मार्च निकाला।

TOPPOPULARRECENT