बंगलुरू हिंसा: मंदिर को बचाने के लिए मुस्लिमों ने बनाई ह्युमन चेन!

बंगलुरू हिंसा: मंदिर को बचाने के लिए मुस्लिमों ने बनाई ह्युमन चेन!

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में एक आपत्तिजनक सोशल मीडिया पोस्ट के बाद मंगलवार रात दंगा भड़कने के बाद कुछ मुस्लिम युवाओं ने डीजे पुलिस स्‍टेशन के इलाके में एक मंदिर के आसपास ह्यूमन चेन बनाकर उसकी दंगाइयों से रक्षा की।

 

 

इंडिया टीवी न्यूज़ डॉट इन पर छपी खबर के अनुसार, न्यूज एजेंसी एएनआई ने ट्विटर पर एक वीडियो जारी किया है जिसमें देखा जा सकता है कि हिंसक भीड़ मंदिर को निशाना बनाने के लिए आगे की और बढ़ती नजर आ रही है, लेकिन कुछ मुस्लिम युवाओं ने ह्यूमन चेन बनाकर उन्हें ऐसा करने से रोक दिया।

 

 

 

बता दें कि बेंगलुरु के पुलाकेशी नगर में मंगलवार रात भीड़ ने थाने और और कांग्रेस विधायक के आवास में तोड़फोड़ की। यह घटना विधायक के एक कथित संबंधी द्वारा सोशल मीडिया पर सांप्रदायिक मुद्दे से जुड़े एक पोस्ट साझा किए जाने के बाद हुई।

बंगलुरू हिंसा: मंदिर को बचाने के लिए मुस्लिमों ने बनाई ह्युमन चेन! 1

पुलिस ने बताया कि बड़ी संख्या में लोग विधायक के आवास के निकट जमा हुए और तोड़फोड़ की। उपद्रवियों ने डीजे हल्ली और केजी हल्ली पुलिस थाना इलाके में जोरदार प्रदर्शन किया।

 

रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस दौरान हालात को काबू करने के लिए पुलिस को फायरिंग भी करनी पड़ी, जिसमें 3 लोगों की मौत हो गई। अचानक भड़की हिंसा में 60 पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं, इनमें एक एडिशनल पुलिस कमिश्नर भी शामिल हैं।

 

बेंगलुरु के डीजे हल्ली और केजी हल्ली पुलिस थाना इलाके में जमकर बवाल हुआ। जिसके बाद डीजे हल्ली और केजी हल्ली थाना इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया है।

 

वहीं, बेंगलुरु में धारा 144 लगाई गई है। बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर कमल पंत ने बताया कि सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट शेयर करने के आरोपी नवीन को गिरफ्तार कर लिया गया है।

 

पुलिस सूत्रों ने कहा कि खुद को विधायक का रिश्तेदार बताने वाले आरोपी ने कथित रूप से सोशल मीडिया पर एक पोस्ट साझा की, जिससे एक समुदाय के लोग भड़क उठे। विधायक ने समुदाय के लोगों से हिंसा नहीं करने की अपील की।

 

उन्होंने वीडियो संदेश में कहा, ”मैं मुस्लिम भाईयों से अपील करता हूं कि कुछ उपद्रवियों की गलतियों के चलते हमें हिंसा में शामिल नहीं होना चाहिये। लड़ने-झगड़ने की कोई जरूरत नहीं है। हम सभी भाई हैं।

 

हम कानून के अनुसार दोषियों को सजा दिलाएंगे। हम भी आपके साथ हैं। मैं अपने मुस्लिम दोस्तों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं।”

Top Stories