बिहार: ‘डॉ.शराफत वेलफेयर ट्रस्ट’ फ्री हेल्थ चेकअप कैंप लगाकर करीब 600 मरीजों को मुफ्त सेवाएं दी!

बिहार: ‘डॉ.शराफत वेलफेयर ट्रस्ट’ फ्री हेल्थ चेकअप कैंप लगाकर करीब 600 मरीजों को मुफ्त सेवाएं दी!

अब्दुल हमीद अंसारी, पटना। कहते हैं खिदमत अल्लाह पाक को बेहद पसंद है। सामाजिक स्तर पर इसकी बेहद जरूरी है। मौजूदा वक्त में अगर गौर किया जाए तो गांव देहात के इलाकों में इस पर काम करने की बेहद जरूरत है। तमाम सरकारी और गैर सरकारी आंकड़े बताते हैं कि गांवों में सेहत को लेकर लोगों में कितना पिछड़ापन है। सही वक्त पर हेल्थ चेकअप नहीं होना, कभी-कभी लोगों के लिए घातक साबित हो सकता है।

इसी नेक काम पर एक संगठन ने काम करने का जिम्मा उठाने की नेक कोशिश की है। बिहार के बांका जिले के ‘अहिरो पंचायत’ स्थित सिंगापुर गांव में मुफ्त इलाज और चेकअप के लिए एक कैंप का आयोजन किया गया, जिसमें मरीजों की जांच के लिए सुविधा मुहैया कराई गई। मरीजों के लिए चेकअप के अलावा खास इंतजाम मुफ्त दवाओं का सुविधाएं दी गयी।

इस नेक काम को करने के लिए डॉ. शराफत वेलफेयर ट्रस्ट के जानिब से अनेक डॉक्टरों और जांच कर्ताओं को बुलाया गया था। इसमें कुछ डॉक्टर कोलकाता से भी शामिल हुए थे।

दैनिक भास्कर पर छपी रिपोर्ट के मुताबिक प्रखंड के अहिरो पंचायत स्थित सिंगारपुर गांव में एक ट्रस्ट ऐसा भी है, जहां मरीजों को मुफ्त में इलाज व दवा की सुविधा दी जा रही है।

डॉ. शराफत वेलफेयर ट्रस्ट के तत्वावधान में शनिवार को दो दिवसीय शिविर का उद्घाटन किया गया। जिसका शुभारंभ 92 वर्षीय वयोवृद्ध मौलाना अशफाक ने किया। प्रथम दिन शिविर में ग्यारह डॉक्टर की टीम ने पांच सौ से ज्यादा मरीजों का जांच किया।

शिविर में इसीजी, ब्लड टेस्ट, प्रेशर व अन्य जांच किया गया। मरीजों के बीच चश्मा व दवाई का मुफ्त वितरण किया गया। उस्मान गनी ने बताया कि यह इलाका शिक्षा और स्वास्थ्य में पिछड़ा हुआ है।

इस मौजू पर मेरी बात इस ट्रस्ट के अहम सदस्य उस्मानग़नी से हुई, उन्होंने सियासत हिन्दी को बताया कि इस ट्रस्ट का मकसद गरीबों को मुफ्त हेल्थ चेकअप और थोड़े बहुत जरुरीयात दवाइयां मुहैया करना है।

जनाब उस्मानग़नी ने बताया कि जरुरतमंद लोगों के बीच सेहत पर काम करना बेहद जरूरी है, और हम इस पर काम करने की कोशिश कर रहे हैं। बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि हमारा ट्रस्ट शिक्षा को लेकर भी गंभीर है और हम इस पर भी काम आगे करेंगे। आपको बता दें कि जनाब उस्मानग़नी समाजिक कामों से जुड़े रहते हैं और उनकी सोच इंसानी जरुरत पर आगे भी करने की है।

सियासत हिन्दी को मिली रिपोर्ट के मुताबिक इस ट्रस्ट का उद्घाटन समारोह भी था जो बहुत ही कामयाब माना जा रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक करीब 600 जरुरतमंद लोगों ने हिस्सा लिया और चेकअप कराया।

हेल्थ चेकअप कराने वाले सभी लोगों को जरुरी दवाएं मुहैया करवाई गयी। सबसे बड़ी बात यह है कि लोगों को मुफ्त में चश्मे मुहैया करवा गया। उस्मानग़नी बताते हैं कि लोगों के लिए काम करना और जरूरतमंदों तक सुविधा मुहैया करवाना हमारे ट्रस्ट के लिए एक कामयाबी है। उन्होंने कहा कि हम आगे भी इस तरह के कैंप लगाने का काम करेंगे और लोगों की अपने ट्रस्ट के जानिब से सेवाएं देते रहेंगे।

Top Stories