CAA प्रदर्शन में ‘झूठ-सच’ के खेल पर कलाकारों की जुबानी कलाकारी

CAA प्रदर्शन में ‘झूठ-सच’ के खेल पर कलाकारों की जुबानी कलाकारी

“देश के गद्दारों को गोली मारो सा** को” जैसी बातें बोलकर उत्तेजित करने से लेकर, इस तरह के इल्जाम लगाना कि “शाहीन बाग में मुफ्त में 500 रुपए और बिरयानी मिलती है, इसलिए लोग वहां बैठते हैं”- CAA प्रोटेस्टर्स के खिलाफ ऐसे कुछ प्रपोगैंडा पर आर्टिस्ट्स ने रिएक्ट किया है. इस वीडियो में आपको स्वरा भास्कर, आमिर अजीज, सुमुखि सुरेश, कनीज सुरका, पूजन साहिल और अदिति मित्तल अपनी रिएक्शन देते नजर आएंगे.

बयान:

“देश के गद्दारों को गोली मारो सा** को”

प्रतिक्रियाएं:

अदिति मित्तल, कॉमेडियन: देश के बीमारों को, गोली (दवाइयां) दे दो सारों को.

आमिर अजीज, कवि: नफरत करने वालों को, बिरयानी खिलाओ सारों को.

स्वानंद किरकिरे, गीतकार: देश के प्यारों को, सीने से लगाओ सारों को.

स्वरा भास्कर, एक्टर: देश के गवांरों को, स्कूल भेजो सारों को. व्हाट्सएप यूनिवर्सिटी नहीं, बल्कि असली स्कूल, जहां असल में इतिहास पढ़ाया जाता है.

सुमुखि सुरेश, कॉमेडियन: आप लोगों को मारने की बात कर रहे हैं? जरा रिलैक्स करिये. हम पहले बिरयानी खा के आते हैं, उसके बाद इस बारे में बात करते हैं.

प्रवीण खड़े, संगीतकार: उन लोगों ने ऐसा कहा क्यूंकि वो ही उनकी भूमिका है. नाथूराम ने गांधी को मारा था और ये लोग नाथूराम के ही स्कूल के पढ़े हैं. लेकिन हमारी पढ़ाई आंबेडकर, गांधी, फातिमा और फूले की स्कूल में हुई.

इस ही तरह से इन आर्टिस्ट्स ने CAA प्रोटेस्टर के खिलाफ हर प्रोपगैंडा और आरोप पर अपनी प्रतिक्रियाएं दीं. जो प्रोपगैंडा और आरोप हमने इन आर्टिस्ट्स के सामने रखे, उसमें से ये कुछ थे-

  • “आप लोग तो देश को बांट रहे हो, टुकड़े-टुकड़े, चूर-चूर, अर्बन नक्सल, देश द्रोही गैंग हो”
  • “शाहीन बाग प्रोटेस्ट स्पॉन्सर्ड है, सारा कांग्रेस का खेल है”
  • “एंटी-CAA प्रोटेस्टर्स को पढ़ना चाहिए, वो इसलिए प्रोटेस्ट कर रहे हैं क्यूंकि उनको कुछ पता ही नहीं है”
  • “2014 से लेकर अब तक, सरकार ने कभी NRC की बात नहीं की थी”
  • “CAA-NRC किसी का नुक्सान नहीं करेगा, आप लोग बेकार में ही डर फैला रहे हो”.

https://hindi.thequint.com/

Top Stories