भाजपा और आरएसएस साम्प्रदायिक संगठन है: फारूक अब्दुल्ला

भाजपा और आरएसएस साम्प्रदायिक संगठन है: फारूक अब्दुल्ला

श्रीनगर: नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष व सांसद डॉक्टर फारूक अब्दुल्लाह ने भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय संव्य सेवक संघ को साम्प्रदायिक संगठन बताया है। उन्होंने कहा कि जब तक नेशनल कांफ्रेंस जिंदा है तबतक राज्य की एकता अखंडता एकजुटता और धारा 370 को कोई नुकसान नहीं पहुंचा सकता।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

फारूक अब्दुल्लाह ने बुधवार के दिन यहाँ पार्टी हेडक्वार्टर में सुबह काम्प्लेक्स में विभिन्न कारोबारी और संगठनों के प्रतिनिधियों के अलावा जनता के प्रतिनिधि मंडल, पार्टी धिकारी और नेताओं के साथ विमर्श करते हुए कहा कि मुझे यह बात कहने में जरा भी हिचकिचाहट महसूस नहीं होती कि नेशनल कांफ्रेंस राज्य जम्मू व कश्मीर की एकमात्र एसी राजनीतिक और जनता की प्रतिनिधित्व करने वाली पार्टी है जिसकी जड़ें इसी राज्य में गड़ी हैं और यही वह पार्टी है जो भाजपा और आरएसएस जैसी साम्प्रदायिक पार्टियों के कश्मीर दुश्मन योजनाओं पर पानी फेर सकती है।

जबतक जम्मू व कश्मीर में नेशनल कांफ्रेंस का हल वाला झंडा ऊँचा है तबतक यहाँ तक कि तीनों क्षेत्रों की एकता, अखंडता, एकजुटता और धारा 370 को कोई भी नुकसान नहीं पहुंचा सकता। फारूक अब्दुल्लाह ने राज्य में पाए जाने वाले बकौल उनके आर्थिक और सामाजिक संकट पर जबर्दस्त चिंता का इज़हार किया है।

Top Stories