उत्तर प्रदेश : भाजपा के एक और दलित सांसद यशवंत सिंह ने जताई नाराजगी

उत्तर प्रदेश : भाजपा के एक और दलित सांसद यशवंत सिंह ने जताई नाराजगी
Click for full image

उत्तर प्रदेश में भाजपा नेतृत्व के खिलाफ दलित सांसदों की नाराजगी तेजी से बढ़ती जा रही है। ताजा मामला नगीना से भाजपा सांसद यशवंत सिंह का है जिन्होंने मोदी सरकार के प्रति नाराजगी व्यक्त की है। यशवंत सिंह ने अजा-जजा एक्ट पर सुप्रीम के फैसले को लेकर सरकार पर सवाल उठाए हैं। सिंह ने पीएम नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र में दलितों के हित के लिए आवाज उठाई है।

पत्र में यशवंत सिंह ने मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि उनकी ओर से 4 साल में 30 करोड़ की आबादी वाले दलित समाज के लिए प्रत्यक्ष रूप से कुछ भी नहीं किया गया। वे आरक्षण के कारण ही सांसद बन पाए, हालांकि उनकी योग्यता का उपयोग नहीं हो रहा है। सांसद बनने के बाद उन्होंने पीएम मोदी से मांग की थी कि प्रमोशन में आरक्षण बिल पास कराया जाए, हालांकि यह मांग पूरी नहीं हुई है।

नाराजगी जाहिर करते हुए यशवंत ने कहा कि आज भाजपा के दलित सांसद प्रताड़ना के शिकार बन रहे हैं। सिंह ने मांग की कि मोदी सरकार अजा-जजा एक्ट पर सुप्रीम के फैसले को कोशिश कर पलटवाये।

यशवंत से पहले इटावा के बीजेपी सांसद अशोक दोहरे ने अपनी ही सरकार से नाराजगी जताई थी। योगी आदित्यनाथ के रवैये के खिलाफ दलित सांसद छोटेलाल खरवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर अपनी बात रखी थी और भाजपा सांसद सावित्री बाई फुले भी अपनी नाराजगी जता चुकी हैं।

Top Stories