Tuesday , July 17 2018

मोदी को राम मंदिर निर्माण की याद दिलाना विनय कटियार को भारी पड़ा, कट गया राज्यसभा का टिकट?

भाजपा ने राम मंदिर आंदोलन से जुड़े और सांसद विनय कटियार का टिकट काट दिया है। उत्तर प्रदेश में रिक्त दस सीटों के राज्यसभा चुनाव में भाजपा ने उन्हें टिकट ही नहीं दिया। इसको लेकर कटियार के समर्थकों और पार्टी के अंदर चर्चा शुरू हो गई है।

कटियार के करीबियों का कहना है कि राम मंदिर निर्माण के लिए नरेंद्र मोदी पर दबाव बनाने और आडवाणी को समर्थन देने की उन्हें कीमत चुकानी पड़ी है। जिन आठ नेताओं को भाजपा यूपी से राज्यसभा के लिए भेज रही है, वे सभी कटियार से जूनियर हैं।

विनय कटियार 2006 से राज्यसभा सदस्य हैं। दो अप्रैल को उनका कार्यकाल खत्म हो रहा है। इससे पहले वे फैजाबाद से तीन बार सांसद रहे। टिकट कटने के कारणों को लेकर पार्टी में तरह-तरह की चर्चाएं हैं।

कहा जा रहा है कि कई मामलों में मुखर होने के कारण उन्हें भाजपा का वर्तमान शीर्ष नेतृत्व पसंद नहीं करते। विनय कटियार पिछले साल सीबीआई पर भाजपा के दिग्गजों के खिलाफ राम मंदिर आंदोलन से जुड़े पुराने केस खुलवाने की साजिश का आरोप लगा चुके हैं।

TOPPOPULARRECENT