Saturday , April 21 2018

कर्नाटक : अब भाजपा की नज़र तटीय कर्नाटक क्षेत्र पर

Chawmanu: BJP National President Amit Shah addresses a public meeting in Chawmanu, Tripura on Sunday. PTI Photo (PTI2_11_2018_000188B)

कर्नाटक में सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील तटीय जिलों, दक्षिणी कन्नड़, उडुपी और उत्तर कन्नड़ में अपनी स्थिति मजबूत करने के लिए भाजपा मजबूत अभियान शुरू करने जा रही है, जिसमें भाजपा प्रमुख अमित शाह रैलियों में शामिल होंगे। इसके अलावा प्रमुख मंदिरों में जायेंगे और दो उन लोगों के परिजनों को मिलेंगे जो हाल ही में हुई सांप्रदायिक हिंसा मारे गए थे। शाह 20 और 21 फरवरी को राज्य के तटीय क्षेत्र का दौरा करेंगे।

राज्य भाजपा द्वारा घोषित दौरे के मुताबिक पार्टी कार्यकर्ताओं को मिलने और सार्वजनिक सभाओं को संबोधित करने के अलावा शाह दीपक राव और परेश मेस्टा के घर जायेंगे। दोनों के इस क्षेत्र में सांप्रदायिक हिंसा के शिकार होने का संदेह है। यहां मुस्लिम समुदाय की खासी उपस्थिति है।

गृह मंत्री रामलिंगा रेड्डी ने 6 फरवरी को विधानसभा में कहा था कि सरकार हिंदुत्व संगठनों के सदस्यों के खिलाफ मामूली आरोपों वाले मामले वापस लेने के लिए तैयार है बशर्ते वे ऐसा अनुरोध लेकर सरकार से संपर्क करें। एक मोबाइल फोन की दुकान में काम करने वाले 25 वर्षीय दीपक राव को 3 जनवरी को हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने दावा किया कि चार संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है जिनकी नौशाद, पिंकी, नवाज और रिजवान के रूप में पहचान की गई है।

पिछले साल दिसंबर में शहर में एक स्थल के पास होन्नावर में सांप्रदायिक संघर्ष के बीच 18 वर्षीय परेश मेस्टा गायब हो गया था। उनका शव दो दिन बाद पाया गया। इसके बाद भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। फॉरेंसिक रिपोर्टों में यातना या विकृति के संकेत नहीं थे। भाजपा की मांग के बाद जांच सीबीआई को सौंपी गई थीहै

शाह 6 मार्च को फिर से इस इलाके में ‘सुरक्षा यात्रा’ की परिणति के लिए सूरतकल में एक रैली में भाग लेने के लिए इस क्षेत्र का दौरा करेंगे। सांसद शोभा करंदलाज के अनुसार यात्रा का उद्देश्य क्षेत्र के लोगों के बीच सुरक्षा की भावना को पुनर्जीवित करना है।

TOPPOPULARRECENT