हज सब्सिडी ख़त्म करना भाजपा सरकार की रणनीति हिस्सा

हज सब्सिडी ख़त्म करना भाजपा सरकार की रणनीति हिस्सा

हज सब्सिडी को ख़त्म करना बहुसंख्यकों के वोट हासिल करने के लिए भाजपा सरकार की रणनीति हिस्सा है। तय वक्‍त से चार साल पहले हज सब्सिडी खत्‍म करने का फैसला क्‍यों लिया गया? कहीं इसके पीछे हिंदुत्‍व की उस लकीर को और मजबूत करने की मंशा तो नहीं, जिसे कांग्रेस से लेकर टीएमसी तक तक हर कोई पीटने लगा था।

हज सब्सिडी के नाम पर एयर इंडिया के घाटे की भरपाई करने के लिए मीडिया के माध्यम से था, तब तक तब तक कांग्रेस सरकार द्वारा पेश किया गया था। भाजपा सरकार ने हाल ही एयर इंडिया का निजीकरण करने का फैसला किया है। जब एयर इंडिया की जरुरत खत्म हो गई तो हज सब्सिडी वापस ले ली गई।

अब देखना है कि सरकार एयर इंडिया के एकाधिकार को तोड़ने के लिए हज यात्रियों के लिए अंतरराष्ट्रीय निविदाएं आमंत्रित करेगी या नहीं। वैसे सब्सिडी वापस लेना आंकडों की जादूगरी है। इस सब्सिडी को वापस लेना आंकड़ों के साथ जादूगरी करने जैसा है। यह कुछ ऐसा ही है कि किसी की जेब से पैसे निकाल लिए जाएं और उसका आधा हिस्सा उसे दान कर दिया जाए।

(लेखक : इम्तयाज हुसैन, कोलकाता)

Top Stories