Monday , April 23 2018

भाजपा नेता की खुली चुनौती, कहा- नीतीश सरकार की FIR को कूड़ेदान में फेंकता हूँ

पटना: बिहार के जिला भागलपुर में शोभा यात्रा के दौरान दंगा भड़काने के मामले में दर्ज केस को लेकर केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अर्जित शाश्वत ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार को लेकर विवादित टिप्पणी की है। शाश्वत ने सीएम नीतीश कुमार को खुली चुनौती देते हुए कहा कि मैं कोई अपराधी नहीं हूँ, मैं इस एफआईआर को कूड़े में फेंकता हूं। बता दें कि भागलपुर पुलिस शाश्वत की लगातार तलाश कर रही है जिसपर आरोप है कि उसने कुछ लोगों के साथ मिलकर शहर में दंगा भड़काने की कोशिश की।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

खबर के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अर्जित शाश्वत शाश्वत ने अपने ऊपर हुए एफआईआर को लेकर पटना में एक संवाददाता सम्मेलन बुलाया। इस दौरान उन्होंने सीएम नीतीश कुमार को खुली चुनौती देते हुए कहा कि मैं कोई अपराधी नहीं हूँ, और मैनें ऐसा कोई अपराध नहीं किया है जिसके लिए मुझे भागना पड़े। उनहोंने कहा कि उनके खिलाफ जो एफआईआईर हुई है, वह उसे रद्दी का टुकड़ा मानते हैं। उन्होंने कहा कि मैं इस एफआईआर को कूड़े में फेंकता हूं।

हालांकि इस दौरान उन्होंने माना कि भागलपुर में जो शोभा यात्रा उन्होंने निकाली थी उसे पुलिस की अनुमति नहीं थी। लेकिन इस बात पर उन्होंने पुलिस से पूछा कि आख़िर तब भी उनके शोभा यात्रा में पुलिस तैनाती क्यों की गई थी। संवाददाताओं को संबोधित करते हुए शाश्वत ने इस पूरे मुद्दे पर मुख्य मंत्री नीतीश कुमार के कड़े रूख का विरोध किया। उन्होंने कहा कि अगर भारत माता की जय कहना अपराध हैं तो मैं अपराधी हूं। शाश्वत ने इस पूरे मामले के प्रकाश में आने के बाद भागलपुर के पुलिस अधिकारियों हटाने की भी मांग की।

बता दें कि शाश्वत भागलपुर से भाजपा टिकट पर पिछले विधान सभा का चुनाव हार चुके हैं। माना जा रहा हैं कि इस मुद्दे पर उन्हें केवल उनके पिता केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे का समर्थन मिल रहा हैं।

TOPPOPULARRECENT